DNA: भारत की सेना का विजयघोष 'Beating The Retreat'

DNA: Beating the Retreat सोलहवीं सदी के ब्रिटेन की परंपरा है, जिसका पुराना नाम है Watch Setting. सोलहवीं सदी में ब्रिटेन में सैनिकों का उत्साह बढ़ाने के लिए सूर्यास्त के समय एक गोली चलाकर Beating the retreat की शुरुआत की जाती थी. वहां से शुरू हुई इस परंपरा ने किस तरह भारत में अपनी जगह बना ली. ऐतिहासिक विजय चौक पर इस बार 'बीटिंग द रीट्रीट' के दौरान 26 धुनें बजाई गईं जिसमें से 25 धुनें भारतीय संगीतकारों द्वारा तैयार की गई हैं. Beating the Retreat में एक पश्चिमी धुन भी बजाई गई जिसका नाम है ‘Abide with me’...इसके बाद Beating The Retreat का समापन हुआ..

Jan 30, 2018, 12:09 AM IST

ट्रेंडिंग न्यूज़

सोना तस्करी सरगना स्वप्ना पर बड़ा खुलासा, केरल के कई नौकरशाहों और मंत्रियों की नींद उड़ी

सोना तस्करी सरगना स्वप्ना पर बड़ा खुलासा, केरल के कई नौकरशाहों और मंत्रियों की नींद उड़ी

इकबाल अंसारी का ओली को जवाब, 'हनुमान जी को गुस्सा आ गया तो नेपाल का पता नहीं लगेगा'

इकबाल अंसारी का ओली को जवाब, 'हनुमान जी को गुस्सा आ गया तो नेपाल का पता नहीं लगेगा'

वो पाक सेना प्रमुख बन सकते थे लेकिन उनका दिल भारत में बसता था!

दुनिया की सबसे तेज और सुरक्षित ट्रेन तैयार, भूंकप के झटकों के बीच भी फर्राटे से दौड़ेगी

दुनिया की सबसे तेज और सुरक्षित ट्रेन तैयार, भूंकप के झटकों के बीच भी फर्राटे से दौड़ेगी

झारखंड : रेशम की खेती से महिलाओं में लौट रही है आत्मनिर्भरता की चमक

झारखंड : रेशम की खेती से महिलाओं में लौट रही है आत्मनिर्भरता की चमक

कभी रानी मुखर्जी और प्रीति जिंटा के बीच थी जबरदस्त दोस्ती, ऐसे आई दोनों के बीच दरार

कभी रानी मुखर्जी और प्रीति जिंटा के बीच थी जबरदस्त दोस्ती, ऐसे आई दोनों के बीच दरार

कानपुर हत्याकांड: 12 दिन बाद लौटा राहुल तिवारी, जिसकी रिपोर्ट पर बिकरू दबिश देने गई थी पुलिस

कानपुर हत्याकांड: 12 दिन बाद लौटा राहुल तिवारी, जिसकी रिपोर्ट पर बिकरू दबिश देने गई थी पुलिस

चीन का नया हथियार: पहले फंसाता है हुस्न के जाल में, फिर शुरू होती है ब्लैकमेलिंग

चीन का नया हथियार: पहले फंसाता है हुस्न के जाल में, फिर शुरू होती है ब्लैकमेलिंग

ଦିନକରେ ୧୫ ପଜିଟିଭ, ଅନୁଗୋଳରେ ଆକ୍ରାନ୍ତଙ୍କ ସଂଖ୍ୟା ୧୫୪କୁ ବୃଦ୍ଧି

ଦିନକରେ ୧୫ ପଜିଟିଭ, ଅନୁଗୋଳରେ ଆକ୍ରାନ୍ତଙ୍କ ସଂଖ୍ୟା ୧୫୪କୁ ବୃଦ୍ଧି

रायपुर: रात 9 बजे के बाद नहीं होगी होम डिलीवरी, दुकानों के खुलने के समय में भी हुआ परिवर्तन

रायपुर: रात 9 बजे के बाद नहीं होगी होम डिलीवरी, दुकानों के खुलने के समय में भी हुआ परिवर्तन