close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

इस चर्च में आग लगने से पूरी दुनिया दुखी, दोबारा बनाने के लिए 2 दिन में इकट्ठा हुआ 1 अरब डॉलर

पेरिस से प्राप्त समाचार के अनुसार दुनियाभर से ईसाई धर्मावलंबियों और अमीरों ने इस कैथेड्रल के पुननिर्माण के लिए करीब एक अरब डॉलर दान में दिया है.

इस चर्च में आग लगने से पूरी दुनिया दुखी, दोबारा बनाने के लिए 2 दिन में इकट्ठा हुआ 1 अरब डॉलर
नोट्रे-डेम के मुख्य ढांचे को बचा लिए जाने के बावजूद आग से ऐतिहासिक इमारत बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई. .(फोटो- Reuters)

संयुक्त राष्ट्र: यूनेस्को के विश्व धरोहर केंद्र की निदेशक मेकटिल्ड रोस्जलर ने कहा है कि पेरिस के मध्यकालीन नोट्रे-डेम कैथेड्रल का दो तिहाई हिस्सा आग से बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया है, लेकिन संयुक्त राष्ट्र के सांस्कृतिक विशेषज्ञ इस ऐतिहासिक ढांचे के पुनर्निर्माण में मदद करने के लिए तैयार हैं. रोस्जलर ने मंगलवार को कैथेड्रल का दौरा करने के बाद यूएन न्यूज से कहा कि कैथेड्रल एक वैश्विक प्रतीक एवं फ्रांस का केन्द्र है और इसे हुए नुकसान से दुनियाभर के लोग चिंतित हैं. इस बीच, पेरिस से प्राप्त समाचार के अनुसार दुनियाभर से ईसाई धर्मावलंबियों और अमीरों ने इस कैथेड्रल के पुननिर्माण के लिए करीब एक अरब डॉलर दान में दिया है.

फ्रांसीसी राष्ट्रपति एमैनुएल मैंक्रो ने इस हादसे पर बुधवार को मंत्रिमंडल की बैठक की. मैक्रों ने पुननिर्माण के लिए पांच साल की समय सीमा तय की है. हालांकि, कई विशेषज्ञों ने इस समय सीमा के अव्यावहारिक बताया है. रोस्जलर ने कहा, ‘‘मैंने कई लोगों को देखा, लोग मेट्रो से नेट्रो-डेम जा रहे थे और मैं यह बताना चाहूंगी कि कई लोग अब भी सदमे में हैं...क्योंकि यह केवल ईसाई समुदाय की नहीं, हम सबकी इमारत थी.’’ उन्होंने कहा, ‘‘ वास्तव में यह वैश्विक प्रतीक एवं फ्रांस का केन्द्र था...मुझे लगता है कि लोगों ने कुछ ऐसा खो दिया है..जो उनकी पहचान का हिस्सा रहा है. ”

रोस्जलर ने बताया कि यूनेस्को के विशेषज्ञों का एक दल इमारत को पहुंचे नुकसान का आकलन कर रहा है. यूनेस्को महानिदेशक ऑड्रे एजोल के बयान का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि अधिकारी जल्द ही नुकसान का आकलन कर लेंगे. जांचकर्ताओं का मानना है कि यह हादसा संभवत: चल रहे मरम्मत कार्य की वजह से हुई हो.

राष्ट्रपति मैक्रों के सांस्कृतिक विरासत दूत स्टीफन बर्न ने प्रसारक फ्रांस इंफो से बुधवार को कहा कि पिछले डेढ़ दिनों में 88 करोड़ यूरो (99.5 करोड़ डॉलर) आ चुके हैं. गौरतलब है कि सोमवार को आग लगने की इस घटना के बाद नोट्रे-डेम के मुख्य ढांचे को बचा लिए जाने के बावजूद आग से ऐतिहासिक इमारत बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई. आग पर 15 घंटे बाद मंगलवार सुबह काबू पा जा सका.