काबुल में शिया धर्मस्‍थल पर आतंकियों ने किया हमला, 14 लोगों की मौत

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में एक धार्मिक कार्यक्रम के दौरान बीती रात कुछ हथियारबंद हमलावरों ने 14 लोगों की हत्या कर दी। मरने वालों में पुलिस अधिकारी भी शामिल है। इस हमले में 36 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। घायलों को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। जवाबी कार्रवाई में एक हमलावर आतंकी के मारे जाने की खबर है।

काबुल में शिया धर्मस्‍थल पर आतंकियों ने किया हमला, 14 लोगों की मौत
फोटो सौजन्‍य: एएनआई ट्वीटर

काबुल : अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में एक धार्मिक कार्यक्रम के दौरान बीती रात कुछ हथियारबंद हमलावरों ने 14 लोगों की हत्या कर दी। मरने वालों में पुलिस अधिकारी भी शामिल है। इस हमले में 36 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। घायलों को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। जवाबी कार्रवाई में एक हमलावर आतंकी के मारे जाने की खबर है।

जानकारी के अनुसार, काबुल की सबसे बड़ी शिया दरगाह पर मोहर्रम से ठीक एक दिन पहले मंगलवार शाम बंदूकधारियों ने हमला कर दिया। शुरुआत में मिलिट्री की ड्रेस पहने कम से कम तीन बंदूकधारियों के दरगाह में घुसने की खबर थी, बाद में अधिकारियों ने बताया कि एक ही बंदूकधारी था, जिसे मार गिराया गया। कुछ लोगों ने जोरदार धमाके की भी आवाज सुनी।
 
आतंकी सैन्य वर्दी में आये थे इसलिए लोगों को उन पर संदेह नहीं हुआ। एक धार्मिक कार्यक्रम के लिए साखी’दरगाह में सैकड़ों की संख्या में शिया मुसलमान इकट्ठा हुए थे। इस कार्यक्रम में अचानक बंदूकधारी दरगाह में घुसे और अधाधुंध गोलियां चलानी शुरू कर दी। अचानक हुए इस हमले से अफरा तफरी मच गयी और 14 लोगों की मौत हो गई। मुहर्रम के लिए जुटे लोग यहां इमाम हुसैन का मातम मनाने के लिए जुटे थे। इस हमले की अबतक किसी आतंकी संगठन ने जिम्मेदारी नहीं ली है।

एक पुलिस अधिकारी ने नाम न बताने की शर्त पर बताया कि इस हमले में कम से कम 14 लोगों की मौत हो गई है। उन्होंने यह भी बताया कि मृतकों की संख्या अभी और बढ़ सकती है। यह हमला स्थानीय समय के अनुसार कल रात 8 बजे से कुछ ही देर पहले शुरू हुआ। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि एक जोरदार धमाका हुआ और उसके बाद गोलीबारी की आवाज सुनाई दी। काबुल पुलिस प्रमुख अब्दुल रहमान राहिमी ने बताया कि दरगाह को खाली करा दिया गया है।