बेटी को घर में छोड़ पार्टी करने गई मां 6 दिन बाद लौटी, दम तोड़ चुकी थी मासूम

ससेक्स पुलिस ने कोर्ट में सीसीटीवी फुटेज सौंपे हैं. जिसमें वेर्फी कुदी लंदन, कोवेंट्री और सोलीहुल में पार्टियां करती दिख रही है. जब वो 6 दिनों बाद अपने घर लौटी, तो 999 पर कॉल करके उसने बताया कि उसकी बच्ची नहीं उठ रही.

बेटी को घर में छोड़ पार्टी करने गई मां 6 दिन बाद लौटी, दम तोड़ चुकी थी मासूम

लंदन: ब्रिटेन में एक 19 साल की महिला को अपनी बेटी को मारने के जुर्म में सजा सुनाई जा सकती है, क्योंकि उसे कोर्ट ने अपनी बच्ची की मौत के लिए दोषी पाया है. एक साल पहले जब वो 18 साल की होने वाली थी, तो अपनी बच्ची को घर में ही छोड़ दिया था और 6 दिनों तक बाहर रहकर पार्टी करती रही. लेकिन जब वो लौटी तो बच्ची को अस्पताल पहुंचाया गया, जहां पहुंचने से बहुत समय पहले ही उसकी मौत हो गई थी. 

ईस्ट ससेक्स का मामला

ये मामला ब्रिटेन के ईस्टे ससेक्स इलाके में आने वाले ब्राइटन का है. जहां पिछले साल वेर्फी कुदी नाम की 18 साल की मां ने अपनी बच्ची को फ्लैट में ही छोड़ दिया था और वो अपने 18वें बर्थडे की पार्टियां करने निकल गई थी. ये घटना दिसंबर 2019 की है. बाद में सीसीटीवी फुटेज से पता चला कि मां पूरे 6 दिन बाद लौटी थी, और उसके बाद उसने अस्पताल को बताया था कि उसकी बच्ची कुछ रिस्पॉन्स नहीं दे रही थी. 

पार्टियां कर रही थी युवा मां

द सन की रिपोर्ट के मुताबिक, ससेक्स पुलिस ने कोर्ट में सीसीटीवी फुटेज सौंपे हैं. जिसमें वेर्फी कुदी लंदन, कोवेंट्री और सोलीहुल में पार्टियां करती दिख रही है. और जब वो 6 दिनों बाद अपने घर लौटी, तो 999 पर कॉल करके उसने बताया कि उसकी बच्ची नहीं उठ रही. उसके बाद वो बच्ची आसियाह को लेकर रॉयल एलेक्जेंड्रा चिल्ड्रन हॉस्पिटल पहुंची. लेकिन बच्ची को मृत घोषित कर दिया गया. 

कोर्ट ने माना-नेग्लेक्शन की शिकार हुई बच्ची

बच्ची आसियाह की मौत के बाद उसका पोस्टमार्टम हुआ, जिसमें बताया गया कि मां ने बच्ची का ध्यान नहीं रखा. वो पड़े पड़े ही मर गई. ये मामला 4 से 12 दिसंबर के बीच का है. वेर्फी कुदी ने कोर्ट के आरोपों को स्वीकार कर लिया है और अब कोर्ट उसकी सजा पर फैसला सुनाएगी. 

ये भी पढ़ें: 9 महीने तक पता ही नहीं चली प्रेग्नेंसी, अचानक किचन में हुई डिलीवरी

जेल में रह चुकी है वेर्फी कुदी

इस मामले में बाद में पुलिस ने वेर्फी को गिरफ्तार कर लिया था, क्योंकि अक्टूबर महीने में कोर्ट ने उसे दोषी मान लिया था. और उसे कस्टडी में भेज दिया गया था. इस मामले में वेर्फी के पिता ने कहा कि वो 14 साल की उम्र में घर से गायब हो गई थी. जिस समय ये हादसा हुआ, उस समय कुदी सरकार की ओर से चलाए जाने वाले सपोर्टिंग हाउस में रह रही थी.

VIDEO

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.