इंडोनेशिया में भूकंप और सुनामी से मची तबाही, करीब 400 लोगों की मौत

राष्ट्रीय आपदा एजेंसी ने मृतकों की संख्या अब तक 384 बताई है. यह आंकड़ा पालू नाम के शहर में मारे गए लोगों का है.

इंडोनेशिया में भूकंप और सुनामी से मची तबाही, करीब 400 लोगों की मौत
इंडोनेशिया में भूकंप और सुनामी ने बरपाया कहर. फोटो PTI

जकार्ता : इंडोनेशिया की आपदा एजेंसी ने शनिवार को कहा कि इंडोनेशिया के सुलावेसी द्वीप में जोरदार भूकंप और इससे पैदा हुई सुनामी की चपेट में आकर मरने वालों की संख्या करीब 400 हो गई है. इलाज के लिए बड़ी संख्या में अस्पताल आए घायलों से डॉक्टरों को जूझना पड़ रहा है. राहत और बचाव कर्मी भी प्रभावितों की सहायता में लगे हैं.

राष्ट्रीय आपदा एजेंसी ने मृतकों की संख्या अब तक 384 बताई है. यह आंकड़ा पालू नाम के शहर में मारे गए लोगों का है. उन्होंने कहा कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है. करीब साढ़े तीन लाख की आबादी वाले शहर पालू में कल सुनामी की 1.5 मीटर (पांच फुट) ऊंची लहरें उठी थीं. कई लोगों के शव समुद्र तट पर नजर आए.

इंडोनेशियाई शहर में शक्तिशाली भूकंप के बाद सुनामी ने भी बरपाया कहर, कई लोग बेघर

आपदा एजेंसी ने कहा कि शुक्रवार की शाम होने के कारण समुद्र तट के किनारे जश्न की तैयारियों में जुटे सैकड़ों लोगों का अता-पता नहीं होने के कारण भी चिंता पैदा हो गई है. अस्पतालों में बड़ी संख्या में घायल लोग भर्ती हैं. कई लोगों का इलाज खुले आसमान के नीचे किया जा रहा है जबकि जीवित बचे अन्य लोग मृतकों के शव बरामद करने में जुटे हुए हैं. एक व्यक्ति को समुद्र तट के पास एक छोटे बच्चे का रेत से सना शव निकालते देखा गया.

बता दें कि मध्य इंडोनेशिया में शुक्रवार को आए शक्तिशाली भूकंप के बाद सुलावेसी द्वीप पर स्थित एक शहर पर सुनामी ने भी कहर बरपाया. अधिकारियों ने बताया कि भूकंप के चलते “कई” इमारतें जमींदोज हो गई. 7.5 तीव्रता के भूकंप ने स्थानीय लोगों में भय का माहौल पैदा कर दिया जो अपना घर छोड़ सड़कों पर निकल आए और सुनामी के डर से ऊंचे मैदानों की तरफ निकल गए.

आपदा एजेंसी ने कुछ देर के लिए सुनामी आने की चेतावनी जारी करने के बाद उसे वापस ले लिया था. भूकंप के केंद्र से करीब 80 किलोमीटर की दूरी पर स्थित पालू शहर के एक पार्किंग रैंप की सबसे ऊपरी मंजिल से फिल्माए गए एक वीडियो में पानी की लहरें कई इमारतों को अपने लपेटे में लेती हुई और एक बड़ी मस्जिद को जलमग्न करते हुए दिखी.

आपदा एजेंसी के भूकंप एवं सुनामी प्रभाग के अध्यक्ष रहमत त्रियोनो ने बाद में पुष्टि की कि शहर में सुनामी की तेज लहरें आई हैं. भूकंप के बाद किसी के भी हताहत होने की खबर नहीं थी लेकिन इस भूकंप की तीव्रता इस वर्ष की शुरुआत में लोमबोक द्वीप में आए भूकंप से कहीं अधिक थी जिसमें सैकड़ों लोग मारे गए थे. अमेरिकी भूगर्भ सर्वेक्षण विभाग ने बताया कि मध्य सुलावेसी के डोंग्गाला कस्बे में आए भूकंप का केंद्र 10 किलोमीटर की गहराई में था.