close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

एक घंटे के अंदर, इंडोनेशिया की हिली 2 बार धरती, जानिए Earthquake आने पर क्या करें

इंडोनेशिया के जावा प्रांत के पूर्व में गुरुवार को 6.1 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए. भूकंप के बाद हालांकि सुनामी की चेतावनी जारी नहीं की गई है. 

एक घंटे के अंदर, इंडोनेशिया की हिली 2 बार धरती, जानिए Earthquake आने पर क्या करें
.(प्रतीकात्मक तस्वीर)

जकार्ता: इंडोनेशिया के जावा प्रांत के पूर्व में गुरुवार को 6.1 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए. भूकंप के बाद हालांकि सुनामी की चेतावनी जारी नहीं की गई है. मेट्रोलॉजी एंड जीओफिजिक्स एजेंसी के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. अधिकारी ने कहा कि भूकंप अपराह्न् 2.06 बजे आया. इसका केंद्र ट्यूबन से 56 किलोमीटर दूर और समुद्र तल से 656 किलोमीटर की गहराई में स्थित था. समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, कुछ देर बाद, समुद्र तल से 623 किलोमीटर की गहराई में 6.0 तीव्रता का भूकंप आया और इसे ऑफ्टरशॉक माना जा रहा है. हालांकि अंतिम भूकंप की स्थिति की समीक्षा की जा रही है.

भूकंप आने की स्थिति में क्या करें?

भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदा से बचाव मुश्किल है और इसे टाला नहीं जा सकता है. लेकिन आप कुछ समझदारी का इस्तेमाल कर इस कुदरती कहर से अपना बचाव कर सकते हैं.

- भूकंप के दौरान आपको लिफ्ट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.
- बाहर जाने के लिए लिफ्ट की बजाय सीढ़ियों का इस्तेमाल करें.
- कहीं फंस गए हों तो दौड़ें नहीं. इससे भूकंप का ज्यादा असर होगा.
-अगर आप गाड़ी या कोई भी वाहन चला रहे हो तो उसे फौरन रोक दें.
- वाहन चला रहे हैं तो बिल्डिंग, होर्डिंग्स, खंभों, फ्लाईओवर, पुल से दूर सड़क के किनारे गाड़ी रोक लें.
-भूकंप आने पर तुरंत सुरक्षित और खुले मैदान में जाएं. बड़ी इमारतों, पेड़ों, बिजली के खंभों से दूर रहें.
- भूकंप आने पर खिड़की, अलमारी, पंखे, ऊपर रखे भारी सामान से दूर हट जाएं ताकि इनके गिरने से चोट न लगे.
- टेबल, बेड, डेस्क जैसे मजबूत फर्नीचर के नीचे छिप जाएं.
- किसी मजबूत दीवार, खंभे से सटकर सिर, हाथ आदि को किसी मजबूत चीज से ढककर बैठ जाएं.