IOM ने दी जानकारी, मई में 680000 अवैध आप्रवासी पहुंचे लीबिया

अंतर्राष्ट्रीय प्रवासन संगठन (आईओएम) ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, संगठन ने कहा, "मई 2018 में आईओएम लीबिया ने 42 देशों के 679,897 आप्रवासियों की पहचान की.

IOM ने दी जानकारी, मई में 680000 अवैध आप्रवासी पहुंचे लीबिया
आप्रवासियों की आबादी लीबिया की आप्रवासी आबादी का 65 फीसदी है.(फाइल फोटो)

त्रिपोली: मई में करीब 680,000 अवैध प्रवासी लीबिया पहुंचे हैं. अंतर्राष्ट्रीय प्रवासन संगठन (आईओएम) ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, संगठन ने कहा, "मई 2018 में आईओएम लीबिया ने 42 देशों के 679,897 आप्रवासियों की पहचान की. " संगठन ने कहा कि शीर्ष पांत में नाइजीरिया, मिस्र, चाड, सूडान और घाना के नागरिक शामिल हैं. 

साथ में इन आप्रवासियों की आबादी लीबिया की आप्रवासी आबादी का 65 फीसदी है. मुअम्मार गद्दाफी की सत्ता खत्म होने के बाद असुरक्षा व अराजकता के कारण लीबिया उन लोगों के लिए पसंदीदा ठिकाना बन गया है, जो यूरोप जाने की चाह में भूमध्यसागर पार करने की उम्मीद करते हैं. लीबिया में शरणार्थी शिविरों में हजारों आप्रवासी हैं, जिन्हें समुद्र तट पर बचाया गया है या लीबियाई सुरक्षा सेवाओं द्वारा गिरफ्तार किया गया है.  

यूरोप जा रहे प्रवासियों के लिए केंद्र है लीबिया
बता दें अफ्रीकी देशों से भूमध्य सागर पार करके यूरोप जाने वाले शरणार्थियों का लीबिया केंद्र रहा है. यूरोपीय संघ और तुर्की के बीच एक समझौते के बाद ग्रीस जाने वाले रास्ते को बंद करने के बाद बड़ी संख्या में प्रवासी अब भूमध्यसागर के रास्ते से इस ओर आते हैं. लीबिया यूरोप पहुंचने की उम्मीद कर रहे हजारों प्रवासियों के लिए एक महत्वपूर्ण प्रस्थान बिंदु है. हालांकि हर साल समुद्र मार्ग का प्रयास करने वाले सैकड़ों डूब जाते हैं. इस साल तक लगभग 40,000 लोग क्रॉसिंग से बच गए हैं, जबकि संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी एजेंसी द्वारा 800 से अधिक लोगों को मृत या गायब के रूप में दर्ज किया गया है.