इंटरव्यू में 300 बार रिजेक्ट हुआ तो किया ऐसा काम, शोहरत तो मिली लेकिन फिर भी नहीं मिली नौकरी

ग्रेजुएट क्रिश को जब नौकरी नहीं मिली तो फिर जो किया गया, उसे जानकर आप भी तारीफ किए बिना नहीं रहेंगे. दरअसल Job को लेकर उसकी दीवानगी ये थी कि एक हफ्ते में 300 बार नौकरी से रिजेक्‍ट होने पर उसने अपना बायोडाटा पूरे शहर की होर्डिग्स में लगवा दिया. 

इंटरव्यू में 300 बार रिजेक्ट हुआ तो किया ऐसा काम, शोहरत तो मिली लेकिन फिर भी नहीं मिली नौकरी
नौकरी पाने के लिये क्रिश ने पूरे शहर में अपने होर्डिंग्स लगवा दिये...

नई दिल्ली: बेरोजगारी (Unemployment) की समस्या भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया में है. शायद ही कोई देश ऐसा हो जहां के लोग इस समस्या से जूझ न रहे हों. बेरोजगार लोग नौकरी (Job) पाने के लिए क्‍या कुछ नहीं करते. दफ्तरों के चक्कर काटने हो या सोर्स और सिफारिश लगाने से लेकर ऑनलाइन आवेदन करना हो, हर समय उनके दिमाग में सिर्फ नौकरी और नौकरी पाने की जद्दोजहद चलती रहती है. इस बीच उत्तरी आयरलैंड के एक युवा ने नौकरी पाने के लिए जो तरीका आजमाया उसके चर्चे अब पूरे देश में हो रहे हैं. 

'हफ्ते भर में 300 बार रिजेक्शन'

दरअसल ग्रेजुएशन करने के बावजूद जब 24 साल के क्रिश को नौकरी नहीं मिली तो उसने जो किया, उसे जानकर आप भी तारीफ किए बिना नहीं रहेंगे. नौकरी को लेकर उसकी दीवानगी ये थी कि क्रिश को एक हफ्ते में करीब 300 बार नौकरी से रिजेक्‍ट किया गया तो उसने नौकरी हासिल करने के लिए पूरे शहर में होर्डिंग लगवा दिए. हालांकि इसके लिए उसे पैसों का इंतजाम करना पड़ा.  लिए उसने करीब 40 हजार रुपये खर्च किए.

सुर्खिया मिलीं, नौकरी नहीं

मिरर में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक बोर्ड में क्रिश ने अपनी बड़ी सी फोटो के साथ लिखा है, ‘प्‍लीज हायर मी.’ इस बिलबोर्ड में उसने अपनी यूएसपी और काबिलियत की जानकारी भी छपवाई है. उन्होंने साइन बोर्ड पर ये भी लिखवाया कि वो ग्रेजुएट होने के साथ अनुभवी कंटेंट राइटर हैं. क्रिश काफी समय से बेरोजगार थे इसलिए उन्होंने ये आइडिया निकाला था.  हालांकि शहर में होर्डिग्स और बिलबोर्ड लगवाने से उन्हें नाम और शोहरत तो मिल गई लेकिन इतने पैसे खर्च करने के बावजूद उसे नौकरी नहीं मिली सकी.

ये भी पढ़ें- सीरियल नंबर वाले 'समोसे' ने मचाया तहलका, खाने से पहले जान लें इसकी पूरी सच्चाई

job news

फोटो क्रेडिट: (Caters News Agency)

इंटरव्यू में छलका दर्द

क्रिस ने कहा, ‘मैं 2 साल तक नौकरी तलाशने के बाद बहुत होपलेस हो गया था. जॉब के लिए होर्डिंग लगवाने का आइडिया मुझे अपनी बहन के साथ बातचीत के दौरान आया. दरअसल मेरी बहन सोशल मीडिया मैनेजर है जो उस समय एक एड कैंपेन के लिए बिलबोर्ड बनवाने पर काम कर रही थी.'

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.