close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ब्राजील के आध्यात्मिक गुरु पर यौन शोषण के आरोप

ये आरोप लगे हैं जोआओ टेक्जीरिआ डि फारिया (76) पर, जिसे ‘जोआओ डि डिअस’ (जोआओ ऑफ गॉड) नाम से भी जाना जाता है.

ब्राजील के आध्यात्मिक गुरु पर यौन शोषण के आरोप
(फाइल फोटो)

रियो डि जिनेरो : ब्राजील में अनेक महिलाओं ने जाने-माने एक स्वयंभू आध्यत्मिक बाबा पर अवसाद तथा अन्य समस्याओं से निजात दिलाने के नाम पर यौन शोषण करने का आरोप लगाया है. ये आरोप लगे हैं जोआओ टेक्जीरिआ डि फारिया (76) पर, जिसे ‘जोआओ डि डिअस’ (जोआओ ऑफ गॉड) नाम से भी जाना जाता है.

डच कॉरियोग्राफर जाहिरा लीनेके माउस तथा ब्राजील की नौ अन्य महिलाओं ने स्वयंभू बाबा पर आरोप लगाए हैं कि बाबा उन्हें मुसीबत से निकालने के नाम पर उनसे अश्लील हरकतें करता था. वह कहता था कि उसकी स्वच्छ ऊर्जा को उन तक पहुंचाने का यही एकमात्र रास्ता है.

जाहिरा को छोड़कर आरोप लगाने वाली अन्य महिलाएं अभी खुलकर सामने नहीं आई हैं. जाहिरा ने ग्लोबो टेलीवीजिन नेटवर्क के एक कार्यक्रम में शुक्रवार रात यह खुलासा किया. उसने बाबा पर बलात्कार का आरोप भी लगाया है. नेटवर्क से संबद्ध ‘ओ ग्लोबो’ न्यूजपेपर ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा कि उसने दो अन्य महिलाओं से भी बात की और उन्होंने भी बाबा पर यही आरोप लगाए हैं. इसके बाद आरोप लगाने वाली महिलाओं की संख्या बढ़कर 12 हो गई है.

सभी महिलाओं का कहना है कि ये घटनाएं 2010 से इस साल की शुरुआत तक फारिया के ‘‘स्पिरिचुअल हॉस्पिटल’’ में हुई. यह अस्पताल राजधानी ब्रासीलिया के निकट अबादिआनिया शहर में है.

उधर, ग्लोबो की जी1 न्यूज वेबसाइट ने फारिया की प्रेस सर्विस की ओर से जारी एक बयान अपनी वेबसाइट पर डाला है. इसमें लिखा है कि उन्होंने पिछले 44 वर्षों में अपनी शक्तियों का इस्तेमाल हजारों लोगों के उपचार के लिए किया है और वह उपचार के दौरान किसी भी प्रकार का अनुचित काम करने के आरोपों को खारिज करते हैं. 

गौरतलब है कि फारिया की प्रसिद्धि सिर्फ ब्राजील में ही नहीं, बल्कि अमेरिका, यूरोप और ऑस्ट्रेलिया में भी उसके अनुयायी हैं. अमेरिकी टेलीविजन हस्ती ओप्रा विन्फ्रे ने भी इस स्वयंभू बाबा के कथित चमत्कारों को देखने के लिए 2013 में उससे मुलाकात की थी. कई टेलीविजन चैनलों ने बाबा के उपचार संबंधी दावों की जांच की है और कुछ चैनलों ने उस पर पूर्व में लगे यौन शोषण के आरोपों के मुद्दे को भी उठाया, लेकिन कभी भी इस बाबा पर मुकदमा नहीं चलाया गया.