किम को ''हेलो'' बोलने अचानक उत्‍तर कोरिया बॉर्डर पहुंचे ट्रंप, हर तरफ मची खलबली
Advertisement
trendingNow1546853

किम को ''हेलो'' बोलने अचानक उत्‍तर कोरिया बॉर्डर पहुंचे ट्रंप, हर तरफ मची खलबली

ट्रम्प और किम कोरियाई प्रायद्वीप के परमाणु निरस्त्रीकरण के मामले पर अभी तक दो बार शिखर वार्ता कर चुके हैं. सबसे पहले वे पिछले साल सिंगापुर में मिले थे और इसके बाद दोनों ने फरवरी में हनोई में शिखर वार्ता की.

किम को ''हेलो'' बोलने अचानक उत्‍तर कोरिया बॉर्डर पहुंचे ट्रंप, हर तरफ मची खलबली

सियोल: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प रविवार को दोनों कोरयाई देशों को बांटने वाले असैन्यकृत क्षेत्र जाएंगे, जहां उनके उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन के साथ बिना पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के मुलाकात होने की संभावना है. ट्रम्प ने रविवार सुबह किए अपने ट्वीट में किम का जिक्र तो नहीं किया, लेकिन आज डीएमजेड जाने की जानकारी दी. ट्रम्प ने इसके बाद सियोल में व्यापारिक नेताओं से कहा किम ''मिलना चाहते हैं.'' उन्होंने कहा, ''देखते हैं क्या होता है. हम कोशिश कर रहे हैं.''

''यह काफी संक्षिप्त होगी, लेकिन इसमें कोई हर्ज नहीं है और केवल हाथ मिलाना भी बहुत है.'' ट्रम्प और किम कोरियाई प्रायद्वीप के परमाणु निरस्त्रीकरण के मामले पर अभी तक दो बार शिखर वार्ता कर चुके हैं. सबसे पहले वे पिछले साल सिंगापुर में मिले थे और इसके बाद दोनों ने फरवरी में हनोई में शिखर वार्ता की. अमेरिकी राष्ट्रपति के टि्वटर पर इस आमंत्रण ने विश्लेषकों को आश्चर्यचकित कर दिया था. 

खशोगी की हत्या से गुस्‍से में ट्रंप, कहा- किसी ने भी शहजादे को दोषी नहीं बताया

ट्रम्प ने ओसाका में जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान टि्वटर पर चौंकाने वाला आमंत्रण देते हुए लिखा था, '' यदि उत्तर कोरिया के अध्यक्ष इसे देखते हैं तो मैं उनसे महज हाथ मिलाने और ‘हेलो’ कहने के लिए सीमा/डीएमजेड पर मिलूंगा.'' उन्होंने बाद में कहा कि उन्हें किम के साथ उत्तर कोरिया में प्रवेश करने में भी कोई समस्या नहीं होगी. ट्रम्प ने पत्रकारों से कहा था, '' निश्चित तौर पर मैं करूंगा, ऐसा करने में मैं सहज महसूस करूंगा. '' 

ट्रंप ने चीनी कंपनी हुआवेई पर लगा बैन हटाया, दो साल में हुआ 30 अरब डॉलर का नुकसान

निमंत्रण पर उत्तर कोरिया की आधिकारिक समाचार एजेंसी 'केसीएनए' ने उप विदेश मंत्री चोई सन हुई के हवाले से कहा था, ''हमें लगता है कि यह काफी दिलचस्प सुझाव है लेकिन हमें इस संबंध में कोई आधिकारिक प्रस्ताव नहीं मिला है.'' इस पर सियोल में 'सेजोंग इंस्टीट्यूट' के एक वरिष्ठ शोधकर्ता चेओंग सेओंग-चांग ने कहा कि किम ने ट्रम्प का निमंत्रण "व्यावहारिक रूप से स्वीकार कर लिया है.'' उन्होंने कहा, '' अगर उन्हें (किम) इसमें रुचि नहीं होती तो वह इस तरह का कोई बयान जारी नहीं करते.'' 

(इनपुटः भाषा)

Trending news