close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अर्जेटीना की संसद में गर्भपात को वैध बनाने वाला विधेयक खारिज

कानून के तहत गर्भधारण के पहले 14 हफ्तों के दौरान गर्भपात की इजाजत दी गई है.

अर्जेटीना की संसद में गर्भपात को वैध बनाने वाला विधेयक खारिज
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

ब्यूनस आयर्स: अर्जेटीना की संसद ने गर्भपात को वैध बनाने वाले विधेयक को खारिज कर दिया है. इससे कैथोलिक बहुल देश में गर्भपात अधिकार समर्थकों को धक्का लगा है. समाचार एजेंसी एफे की रिपोर्ट के मुताबिक, कानून के तहत गर्भधारण के पहले 14 हफ्तों के दौरान गर्भपात की इजाजत दी गई है. इस कानून को 14 जून को चेंबर ऑफ डेप्युटीज ने मंजूरी दी थी. संसद में इसके लिए बुधवार की रात मतदान किया गया था. कुल 72 सीटों में विधेयक के पक्ष में 31 व खिलाफ में 38 मत पड़े और दो लोग अनुपस्थित रहे.

ह्यूमन राइट्स वाच की वरिष्ठ अमेरिकी शोधकर्ता तमारा तारासिक ब्रोनर ने कहा, "हममें से जो भी मानवाधिकारों के लिए कार्य करते हैं वे जानते हैं कि ये लंबी लड़ाई है." उन्होंने कहा, "अगर यह आगे नहीं बढ़ता है तो हमें इस पर जोर देना जारी रखना होगा." सांसदों ने विधेयक पर बुधवार देर रात तक चर्चा की. गर्भपात अधिकार समर्थक कार्यकर्ताओं ने रैली निकाली व कैथोलिक चर्च ने राजधानी ब्यूनस आयर्स में 'मास फॉर लाइफ' का आयोजन किया.

(इनपुट आईएएनएस से)