काबुल: मतदान केंद्र पर आतंकी हमलावर ने खुद को उड़ाया, कम से कम 13 की मौत

अफगानिस्तान के काबुल में शनिवार को एक मतदान केंद्र पर एक आतंकी हमलावर ने खुद को उड़ा लिया जिससे कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई. 

काबुल: मतदान केंद्र पर आतंकी हमलावर ने खुद को उड़ाया, कम से कम 13 की मौत
धमाके के दौरान केंद्रों पर मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर रहे थे.(फोटो- Reuters)

काबुल: अफगानिस्तान के काबुल में शनिवार को एक मतदान केंद्र पर एक आतंकी हमलावर ने खुद को उड़ा लिया जिससे कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई. सुरक्षा अधिकारियों ने यह जानकारी दी है. पुलिस प्रवक्ता बशीर मुजाहिद ने एएफपी को बताया कि मृतकों में आम लोग, चुनाव कार्यकर्ता और पुलिस कर्मी हैं. आपको बता दें कि अफगानिस्तान के काबुल में शनिवार को मतदान केंद्रों पर कई धमाके हुए. धमाके के दौरान केंद्रों पर मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर रहे थे. इसके बाद अफगानिस्तान की राजधानी के उत्तर में एक स्कूल में मतदाता भागते दिखाई दिए.

प्रत्यक्षदर्शियों ने अन्य मतदान केंद्रों पर भी धमाकों की सूचना दी है. लंबे समय बाद हो रहे संसदीय चुनावों में शनिवार को मतदान शुरू हुआ. देशभर में हजारों सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है. अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने मतदान की शुरुआत में अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया.

इसके बाद टेलीविजन पर दिए भाषण में उन्होंने एक अन्य चुनाव के लिए अफगानवासियों को बधाई दी और देश के सुदूरवर्ती हिस्सों तक बैलट ले जाने के लिए सुरक्षाबलों खासतौर से वायु सेना की प्रशंसा की. स्वतंत्र निर्वाचन आयोग ने 88 लाख लोगों को पंजीकृत किया है.  

अफगानिस्तान: तालिबान के हमले में पुलिस प्रमुख की मौत, कंधार प्रांत में टला चुनाव
अफगानिस्तान ने कंधार प्रांत में अमेरिका-अफगान सुरक्षा बैठक को निशाना बना कर किए गए एक आतंकवादी हमले में एक पुलिस प्रमुख के मारे जाने के बाद प्रांत में संसदीय चुनाव शुक्रवार को टाल दिया. राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की एक विशेष बैठक के बाद राष्ट्रपति अशरफ गनी के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि शनिवार को होने जा रहे संसदीय चुनाव एक सप्ताह के लिए टाला जा रहा है. उन्होंने कहा कि स्वतंत्र चुनाव आयोग नयी तारीखों की घोषणा करेगा.  गौरतलब है कि सुरक्षा बलों की पोशाक में बृहस्पतिवार को एक बंदूकधारी ने अमेरिका-अफगान सुरक्षा बैठक को निशाना बना कर हमला किया था.

इस हमले में अफगानिस्तान में अमेरिका और नाटो के कमांडर जनरल स्कॉट मिलर बाल - बाल बच गए, लेकिन कंधार के पुलिस प्रमुख जनरल अब्दुल रजीक मारे गए.  साथ ही, प्रांतीय खुफिया इकाई के प्रमुख और एक अफगान पत्रकार भी इस हमले में मारे गए.  वहीं, 13 अन्य लोग घायल हो गए. इस चुनाव में तीन साल से अधिक की देर हो चुकी है और तालिबान के हमले के बाद मतदान प्रतिशत कम रहने की आंशका जताई जा रही है.

इनपुट भाषा से भी