close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ऑस्ट्रेलिया में बांग्लादेशी महिला को हुई 42 साल की जेल, 31 साल तक परोल भी नहीं मिलेगी, जानें क्‍यों

न्यायाधीश लेसली टेलर ने शोमा को 42 साल जेल की सजा सुनाते हुए कहा, ‘‘तुम जिस मंशा के साथ आयी हो और तुम्हारे काम तथा बयान डर पैदा करने वाले हैं.’’

ऑस्ट्रेलिया में बांग्लादेशी महिला को हुई 42 साल की जेल, 31 साल तक परोल भी नहीं मिलेगी, जानें क्‍यों
(फाइल फोटो)

मेलबर्न : ऑस्ट्रेलिया के विश्वविद्यालय में पढ़ने वाली एक बांग्लादेशी छात्रा को आईएसआईएस के नाम पर अपने मकान मालिक की चाकू से वार कर हत्या करने की कोशिश करने के आरोप में बुधवार को 42 साल जेल की सजा सुनाई गई.

मोमेना शोमा (26) ने आतंकवादी गतिविधि में शामिल होने और सोते हुए मकान मालिक के गले पर चाकू से वार करने की बात कबूल की. घटना से महज आठ दिन पहले वह ऑस्ट्रेलिया आई थी.

लाइव टीवी देखें... 

विक्टोरिया प्रांत के उच्चतम न्यायालय में सजा सुनाये जाने के दौरान शोमा ने नकाब पहन रखा था और उसकी सिर्फ आंखें नजर आ रही थीं. फैसला सुनाये जाने के दौरान उसने ‘‘अल्लाहू अकबर’’ का नारा लगाया. पीड़ित मकान मालिक रोजर सिंगारावेलू हमले में जीवित बच गये थे और सजा सुनाये जाने के दौरान वह भी अदालत में उपस्थित थे.

न्यायाधीश लेसली टेलर ने शोमा को 42 साल जेल की सजा सुनाते हुए कहा, ‘‘तुम जिस मंशा के साथ आयी हो और तुम्हारे काम तथा बयान डर पैदा करने वाले हैं.’’ सजा के दौरान उसे 31 वर्ष छह महीने तक परोल नहीं मिलेगी.