बीबीसी ने कंजर्वेटिव पार्टी से फेसबुक विज्ञापन हटाने का किया आग्रह, ब्रेक्जिट संबंधित फूटेज का किया था इस्तेमाल

फूटेज में 'ब्रेक्जिट में बेवजह देरी' और 'ब्रेक्जिट (Brexit) में एक और देरी' जैसे वाक्यों का इस्तेमाल किया गया है. 

बीबीसी ने कंजर्वेटिव पार्टी से फेसबुक विज्ञापन हटाने का किया आग्रह, ब्रेक्जिट संबंधित फूटेज का किया था इस्तेमाल
फाइल फोटो

लंदन: बीबीसी ने कंजर्वेटिव पार्टी को उस फेसबुक (Facebook) विज्ञापन को हटाने के लिए कहा है, जिसमें उसके न्यूज रिपोर्ट्स और प्रजेंटर्स के संपादित फूटेज का इस्तेमाल किया गया है. फूटेज में 'ब्रेक्जिट में बेवजह देरी' और 'ब्रेक्जिट (Brexit) में एक और देरी' जैसे वाक्यों का इस्तेमाल किया गया है. बीबीसी की गुरुवार की रिपोर्ट के अनुसार, 15 सेकेंड के वीडियो में राजनीतिक संपादक लौरा कुअनसबर्ग, न्यूज एट टेन प्रजेंटर हुओ एडवर्ड्स और राजनीतिक संवाददाता जोनाथन ब्लैक को अबतक 100,000 से ज्यादा यूजर्स देख चुके हैं.

LIVE TV...

कंजर्वेटिव पार्टी (Conservative party) ने बीबीसी को दिए अपने जवाब में कहा कि वीडियो को 'उस तरह से संपादित नहीं किया गया है कि यह लोगों को गुमराह करे या रिपोर्टिग में बदलाव करे.' समाचार कंपनी ने एक बयान में कहा, "हम बीबीसी के संपादित कंटेंट का इस्तेमाल कर कंजर्वेटिव पार्टी के फेसबुक विज्ञापन से अवगत हैं. यह बीबीसी कंटेंट के इस्तेमाल के पूरी तरह खिलाफ है, जो हमारे आउटपुट को विकृत करता है और जो हमारी निष्पक्षता की धारणाओं को नुकसान पहुंचा सकता है."

इससे पहले माइक्रो-ब्लागिंग प्लेटफार्म-ट्विटर (Twitter) ने भी लोगों को गुमराह करने के लिए कंजर्वेटिव पार्टी के खिलाफ कड़े कदम उठाने की चेतावनी दी थी. दरअसल पार्टी ने एक महत्वपूर्ण राजनीतिक बहस के दौरान एक फैक्ट-चेकिंग संगठन के रूप में अपने ट्विटर हैंडल का नाम बदल दिया था.