बांग्लादेश में ईसाई परिवार पर बम फेंके गए, दो घायल

पश्चिमी बांग्लादेश में अज्ञात शरारती तत्वों ने मंगलवार को एक ईसाई परिवार के घर पर देसी बम फेंके। इस घटना में दो लोग घायल हो गए। देश में हाल के हफ्तों में अल्पसंख्यकों और धर्मनिरपेक्ष कार्यकर्ताओं पर कई इस्लामवादी हमले हुए हैं। दमुरहुदा पुलिस थाने के प्रभारी अधिकारी लियाकत हुसैन ने कहा कि हमलावर कल मध्यरात्रि के आसपास 45 साल के मवेशी व्यापारी आलम मंडल के चुआदंगा स्थित घर में घुस गए।

ढाका: पश्चिमी बांग्लादेश में अज्ञात शरारती तत्वों ने मंगलवार को एक ईसाई परिवार के घर पर देसी बम फेंके। इस घटना में दो लोग घायल हो गए। देश में हाल के हफ्तों में अल्पसंख्यकों और धर्मनिरपेक्ष कार्यकर्ताओं पर कई इस्लामवादी हमले हुए हैं। दमुरहुदा पुलिस थाने के प्रभारी अधिकारी लियाकत हुसैन ने कहा कि हमलावर कल मध्यरात्रि के आसपास 45 साल के मवेशी व्यापारी आलम मंडल के चुआदंगा स्थित घर में घुस गए।

तब मंडल बरामदे में सो रहे थे। हमलावरों ने मंडल को निशाना बनाकर एक देसी बम फेंका जिससे वह घायल हो गए। धमाके की आवाज सुनकर आसपास रहने वाले लोग वहां पहुंचे और हमलावरों का पीछा किया। इस दौरान हमलावरों ने और देसी बम फेंके एवं फरार हो गए। कुछ खबरों में कहा गया कि धमाकों में एक और व्यक्ति घायल हो गया। बाद में पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और मंडल को अस्पताल में भर्ती कराया गया। पुलिस ने हालांकि इसे ‘साधारण डकैतों द्वारा अंजाम दी गयी’ घटना बताया।

चुआदंगा के पुलिस प्रमुख रबीउल हुसैन ने कहा, ‘हमारी शुरुआती जांच में पाया गया कि कल मध्यरात्रि के बाद डकैतों ने घर पर धावा बोला और अंदर घुसने में नाकाम रहने पर देसी बम फेंके. हमने शरारती तत्वों को पकड़ने के लिए अभियान शुरू कर दिया है।’ उन्होंने बताया कि मंडल ने कल गांव के बाजार में कुछ गायें बेची थीं जिससे उसके पास कुछ पैसे आए थे। अधिकारी ने बताया कि डकैतों ने करीब दो महीने पहले भी मंडल से पैसे छीनने की कोशिश की थी जिस वजह से उन्हें यह डकैती का मामला लगता है।