close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

भारत के साथ और करीबी संबंध चाहते हैं ब्रिटिश प्रधानमंत्री पद की दौड़ में आगे चल रहे बोरिस

बोरिस जॉनसन ब्रिटेन के यूरोपीय संघ (ईयू) से अलग होने के बाद अक्सर भारत-ब्रिटेन के बीच नजदीकी व्यापारिक संबंधों के पक्ष में बोलते रहे हैं.

भारत के साथ और करीबी संबंध चाहते हैं ब्रिटिश प्रधानमंत्री पद की दौड़ में आगे चल रहे बोरिस
फाइल फोटो

लंदन: ब्रिटेन में प्रधानमंत्री पद की दौड़ में सबसे आगे चल रहे बोरिस जॉनसन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ‘‘प्रभावशाली’’ जीत के बाद भारत और ब्रिटेन के बीच नजदीकी साझेदारी चाहते हैं. जॉनसन, टेरीजा मे के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल में पूर्व विदेश मंत्री हैं. टेरीजा मे सात जून को औपचारिक रूप से इस्तीफा देने जा रही हैं जिससे कंजर्वेटिव पार्टी के नए नेता के लिए मुकाबला शुरू हो गया है जो ब्रिटेन के प्रधानमंत्री पद की शपथ लेगा.

ब्रेग्जिट के समर्थक 54 वर्षीय बोरिस इस दौड़ में आगे चल रहे हैं. वह ब्रिटेन के यूरोपीय संघ (ईयू) से अलग होने के बाद अक्सर भारत-ब्रिटेन के बीच नजदीकी व्यापारिक संबंधों के पक्ष में बोलते रहे हैं.

जॉनसन ने गुरुवार को राजग की प्रचंड जीत के नतीजों के तुरंत बाद मोदी के लिए अपने संदेश में कहा, ‘‘भारतीय चुनाव परिणाम 2019 में भारी जीत के लिए नरेंद्र मोदी को बधाई. यह नए भारत की आपकी आशावादी दूरदृष्टि की पुष्टि है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘चलिए आगामी वर्षों में ब्रिटेन-भारत के बीच और करीबी साझेदारी की उम्मीद करें.’’