Corona: वायरस के 'Indian Variant' से दहशत, ब्रिटेन ने भारत को 'रेड लिस्ट' में डाला

भारत में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के मामलों से विदेशों में भी दहशत है. ब्रिटेन ने भारत को 'रेड लिस्ट' में डाल दिया है. 10 दिनों तक भारत में रहे व्यक्ति को UK को में एंट्री नहीं मिलेगी.

Corona: वायरस के 'Indian Variant' से दहशत, ब्रिटेन ने भारत को 'रेड लिस्ट' में डाला
फाइल फोटो साभार: Reuters

लंदन: बढ़ते कोरोना संक्रमण (Coronavirus) के चलते ब्रिटेन ने भारत को 'रेड लिस्ट' में डाल दिया है. इसके तहत नॉन-ब्रिटिश और आइरिश नागरिकों के भारत से ब्रिटेन जाने पर पाबंदी रहेगी. साथ ही विदेश से लौटे ब्रिटेन के लोगों को होटल में 10 दिन तक क्वारंटीन रहना अनिवार्य कर दिया है.

वायरस के कथित भारतीय स्वरूप से दहशत

ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक ने 'हाउस ऑफ कॉमन्स' में इस बात की पुष्टि की. उन्होंने कहा कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस (Coronavirus) के तथाकथित भारतीय स्वरूप से संक्रमित होने के 103 मामले सामने आए हैं. इनमें से अधिकतर मामले विदेश से लौटे यात्रियों से संबंधित हैं. उन्होंने कहा कि कोरोना के नए स्वरूप का विश्लेषण किया गया ताकि यह पता लगाया जा सके कि नये स्वरूप के चिंताजनक परिणाम तो नहीं हैं जैसे कि बड़े पैमाने पर इसका फैलना या इलाज और टीका तैयार करने में मुश्किल होना आदि.

10 दिनों तक भारत में रहे तो एंट्री नहीं

मंत्री ने सांसदों को बताया, 'आंकड़ों के विश्लेषण के बाद ऐहतियात के तौर पर हमने भारत को 'रेड लिस्ट' में डालने का मुश्किल लेकिन जरूरी फैसला लिया. इसका मतलब है कि अगर कोई नॉन-ब्रिटिश या आइरिश बीते दस दिनों तक भारत में रहा है तो उसे ब्रिटेन में प्रवेश नहीं दिया जा सकता.'  हैनकॉक ने कहा कि नए नियमों को हल्के में नहीं लिया जा सकता और शुक्रवार से इन्हें लागू कर दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें: कोरोना: समय से पहले ही घोषित हुईं दिल्ली में समर वेकेशन, जानें कब तक बंद रहेंगे स्कूल 

बोरिस का दौरा हो चुका है रद्द

इससे कुछ घंटे पहले ब्रिटेन के प्रधानमंत्री कार्यालय डाउनिंग स्ट्रीट ने देश में कोरोना वायरस के मामलों में तेज वृद्धि के मद्देनजर अगले सप्ताह होने वाली प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris johnson) की भारत यात्रा रद्द करने की घोषणा की थी. इससे पहले, जॉनसन से जब पूछा गया था कि क्या भारत को रेड लिस्ट में डाला जाएगा तो उन्होंने कहा था कि इस पर निर्णय काफी हद तक ब्रिटेन की स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी को लेना है.

LIVE TV

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.