अचानक ऐसा क्या हुआ जो पूरे ब्रिटेन में हो गई पेट्रोल की भारी किल्लत, इतने बुरे हो गए हालात

सरकार यदि समस्या को अनदेखा कर दे तो स्थिति गंभीर होते देर नहीं लगती. ब्रिटेन की बोरिस जॉनसन सरकार ट्रक ड्राइवर्स की कमी को लगातार अनदेखा करती रही, नतीजतन आज पूरा ब्रिटेन पेट्रोल संकट से जूझ रहा है. देश के ज्यादातर पेट्रोल पंप सूख गए हैं. जहां, तेल मिल रहा है, वहां लोगों की भारी भीड़ है. 

अचानक ऐसा क्या हुआ जो पूरे ब्रिटेन में हो गई पेट्रोल की भारी किल्लत, इतने बुरे हो गए हालात
फोटो: द सन

लंदन: ब्रिटेन (Britain) में इस समय पेट्रोल की भारी किल्लत है. अधिकांश पेट्रोल पंप (Petrol Pump) सूखे पड़े हैं और जहां तेल मिल रहा है, वहां लोगों की भीड़ को नियंत्रित करना मुश्किल हो रहा है. हालात इतने बिगड़ चुके हैं कि प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) सेना की मदद लेने पर विचार कर रहे हैं. माना जा रहा है कि जल्द ही पेट्रोल पंपों पर सेना के जवान तैनात किए जाएंगे. ताकि लोगों को बेकाबू होने से रोका जा सके.   

Police के छूट रहे पसीने

‘द सन’ की रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले कुछ दिनों में ही ब्रिटेन (Britain) में पेट्रोल की जबरदस्त किल्लत हो गई है. करीब 90% फ्यूल स्टेशन सूखे पड़े हैं. लोग घबराए हुए हैं और ज्यादा से ज्यादा पेट्रोल खरीदने के लिए यहां से वहां दौड़ रहे हैं. ऐसे में जिन पंपों पर सप्लाई चालू है, वहां मारामारी जैसी स्थिति उत्पन्न है. लोगों को नियंत्रित करने में पुलिस के भी पसीने छूट रहे हैं. इसलिए सेना की तैनाती पर विचार किया जा रहा है.

ये भी पढ़ें -कुछ इस अंदाज में छुट्टियां मनाते नजर आए 68 साल के Vladimir Putin, तस्वीरें वायरल

ये है Shortage की वजह

ब्रिटेन में पेट्रोल की किल्लत के ब्रेक्जिट सहित कई कारण हैं, लेकिन सबसे बड़ी वजह है ट्रक ड्राइवरों (Truck Drivers) की भारी कमी. इस कमी के वजह से सप्लाई चेन बुरी तरह प्रभावित हुई है. नतीजतन रिफाइनरी से पेट्रोल पंपों तक तेल नहीं पहुंच रहा है और लोग परेशान हो रहे हैं. पूरे ब्रिटेन में लगभग एक जैसा नजारा है. फ्यूल स्टेशनों पर वाहनों की लंबी-लंबी लाइन हैं, लोग एक-दूसरे से झगड़ रहे हैं.

Temporary Visa जारी करेगी सरकार!

वहीं, सरकार का कहना है कि पेट्रोल की कमी है, लेकिन मीडिया उसे जरूरत से ज्यादा बड़ा करके दिखा रहा है. जिसकी वजह से लोग घबरा रहे हैं और स्थिति बिगड़ रही है. सरकार हालात की गंभीरता को समझते हुए ट्रक ड्राइवर्स को अस्थायी वीजा (Temporary Visa) जारी करने की घोषणा कर सकती है, ताकि श्रमिकों की कमी को दूर किया जा सके. प्रधानमंत्री ने कहा है कि भारी माल वाहन (HGV) चालकों की कमी को दूर करने के लिए अस्थायी उपायों पर विचार किया जा रहा है. इसी क्रम में अल्पकालिक वीजा पर 5,000 विदेशी ड्राइवरों को ब्रिटेन में आने की अनुमति दी जा सकती है.

Supermarket भी हो गए हैं खाली

ब्रिटेन में अकेले पेट्रोल की किल्लत ही नहीं है. ठीक से सप्लाई नहीं पहुंचने के कारण सुपरमार्केट शेल्फ भी खाली पड़े हैं. ऐसे में लोगों को खाली हाथ लौटना पड़ रहा है. बताया जा रहा है कि ट्रक ड्राइवरों की कमी को लेकर कई बार सरकार को चेताया गया था, लेकिन उसने कोई ध्यान नहीं दिया. जिसके चलते स्थिति बिगड़ती चली गई. आज हालात ये हैं कि अधिकांश पेट्रोल पंप सूखे पड़े हैं और जहां तेल मिल रहा है, वहां भी जल्द ही खत्म होने वाला है.

एक लाख Drivers की जरूरत

ब्रिटेन की रोड हॉलेज असोसिएशन (RHA) ने कहा कि ब्रिटेन को 100,000 लाख से अधिक ड्राइवर्स की जरूरत है, ताकि फ्यूल स्टेशन और सुपरमार्केट स्टोर्स की मांग को पूरा किया जा सके. ड्राइवर्स की कमी कोरोना वायरस महामारी, ब्रेक्जिट सहित दूसरे कारणों के चलते हुई है. उधर, प्रधानमंत्री कार्यालय डाउनिंग स्ट्रीट की प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि हम किसी भी तात्कालिक समस्या से बचने के लिए अस्थायी उपाय देख रहे हैं, लेकिन हम जो भी उपाय पेश करेंगे वो बहुत सख्ती से सीमित समय के लिए लागू होंगे.

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.