ब्रेक्जिट विवाद: ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने ईयू नागरिकों को दिलाया भरोसा

मे ने कहा, "लोग चितिंत हैं कि यह प्रक्रिया जटिल और नौकरशाही से भरी होगी तथा इसे दूर करने में बाधाएं आएंगी. मैं उन्हें ठीक करने का आश्वासन देती हूं."

ब्रेक्जिट विवाद: ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने ईयू नागरिकों को दिलाया भरोसा
(ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे. IANS Photo)

लंदन: ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने इस देश में रह रहे यूरोपीय संघ (ईयू) के नागरिकों को ब्रेक्जिट के बाद ब्रिटेन में स्थायी रूप से रहना यथासंभव आसान बनाने का भरोसा दिलाया है. बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, प्रधानमंत्री ने बुधवार देर रात (19 अक्टूबर) किए गए एक फेसबुक पोस्ट में जोर देकर कहा कि स्थायी रूप से रहने के स्टेटस के लिए आवेदन प्रक्रिया को 'आसान' रखा जाएगा और इसकी 'लागत जितना संभव हो कम' रखा जाएगा. उन्होंने कहा, "मुझे पता है कि लोगों की वास्तविक चिंता इस बात को लेकर है कि इस समझौते को किस प्रकार से कार्यान्वित किया जाएगा."

मे ने कहा, "लोग चितिंत हैं कि यह प्रक्रिया जटिल और नौकरशाही से भरी होगी तथा इसे दूर करने में बाधाएं आएंगी. मैं उन्हें ठीक करने का आश्वासन देती हूं." उन्होंने लिखा, "हम भविष्य में ब्रिटेन में स्थायी रूप से रहने के लिए आवेदन करनेवालों के लिए डिजिटल प्रक्रिया विकसित कर रहे हैं. यह प्रयोक्ताओं को ध्यान में रखकर विकसित की जा रही है और हम हर कदम पर उनके साथ होंगे."

बीबीसी की रिपोर्ट में बताया गया कि स्थायी निवास के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया की बोझिल और अत्यधिक नौकरशाही के कारण लंबे समय से आलोचना हो रही है. स्थायी निवास के लिए यूरोपीय संघ के नागरिक पांच साल के बाद योग्य हैं. एक समय पर तो इसके लिए 85 पन्नों का आवेदन फॉर्म भरने की बात थी.