जेएनयू छात्र नजीब की मां ने लगाया आरोप, कहा- CBI ने 'पक्षपातपूर्ण' जांच की

करीब दो साल पहले जेएनयू परिसर से रहस्यमय परिस्थितियों में लापता हुए छात्र नजीब अहमद की मां ने सोमवार को आरोप लगाया कि सीबीआई ने इस मामले में "पक्षपातपूर्ण" जांच की. 

जेएनयू छात्र नजीब की मां ने लगाया आरोप, कहा- CBI ने 'पक्षपातपूर्ण' जांच की
नफीस ने कहा कि वह इस फैसले के बाद अब सुप्रीमकोर्ट में अपील करेंगी.(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: करीब दो साल पहले जेएनयू परिसर से रहस्यमय परिस्थितियों में लापता हुए छात्र नजीब अहमद की मां ने सोमवार को आरोप लगाया कि सीबीआई ने इस मामले में "पक्षपातपूर्ण" जांच की. दिल्ली उच्च न्यायालय ने इस मामले में सीबीआई को ‘क्लोजर रिपोर्ट ’ दाखिल करने की सोमवार को इजाजत दे दी. इस तरह, मामले की जांच अब बंद होने वाली है. उच्च न्यायालय नजीब की मां फातिमा नफीस के इस आरोप से सहमत नहीं हुआ कि सीबीआई राजनीतिक मजबूरियों के चलते क्लोजर रिपोर्ट रिपोर्ट दाखिल करना चाहती है.

नफीस ने कहा कि वह इस फैसले के बाद अब उच्चतम न्यायालय में अपील करेंगी. उन्होंने ऐसी सभी माताओं से अपील की कि वे 15 अक्टूबर को संसद मार्ग पर मार्च करें जिन्होंने अपने बच्चों को खोने के दुख का सामना किया है. उच्च न्यायालय के फैसले के बद नफीस जेएनयू छात्र संघ के पदाधिकारियों के साथ विश्वविद्यालय परिसर में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर रही थीं.

उन्होंने कहा, ‘‘मैं दुखी हूं क्योंकि सीबीआई ने पक्षपातपूर्ण तरीकों से जांच की और उसका एकमात्र मकसद उन लोगों को बचाना था जिन्होंने मेरे बेटे पर हमला किया. मैं पहले ही दिन से अन्याय का सामना कर रही हूं।’’ उन्होंने दिल्ली पुलिस की जांच पर सवाल उठाए.