Chinese Company ने विज्ञापन से दिया संदेश, ‘मेकअप करेंगी महिलाएं तो होगा शोषण’, जमकर हो रही आलोचना

चीनी कंपनी के विवादास्पद विज्ञापन को लेकर लोगों के गुस्से का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि चीन के ट्विटर कहे जाने वाले वीबो पर यह टॉपिक ट्रेंड कर रहा था. वहीं, कंपनी ने भारी विरोध को देखते हुए अपना विज्ञापन वापस ले लिया है, लेकिन लोगों का गुस्सा अभी शांत नहीं हुआ है.  

Chinese Company ने विज्ञापन से दिया संदेश, ‘मेकअप करेंगी महिलाएं तो होगा शोषण’, जमकर हो रही आलोचना
चीनी कंपनी के इस विज्ञापन पर बवाल हो रहा है.

बीजिंग: जरूरत से ज्यादा क्रिएटिविटी भी कभी-कभी भारी पड़ जाती है. चीन (China) की एक कंपनी के साथ यही हो रहा है. कंपनी ने अपनी ‘मेकअप-रिमूवल वाइप्स’ (Make-up Removal Wipes) को प्रमोट करने के लिए एक ऐसा विज्ञापन (Advertisement) तैयार कर डाला, जिसे लेकर सोशल मीडिया पर बवाल हो रहा है. लोगों ने कंपनी को महिला विरोधी करार देते हुए उसके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. हालांकि, विवाद के बाद कंपनी ने विज्ञापन को वापस ले लिया है, लेकिन लोगों का गुस्सा अभी शांत नहीं हुआ है. 

क्या है Advertisement में?

चीन (China) के कॉटन प्रोडक्ट ब्रांड Purcotton के ‘मेकअप-रिमूवल वाइप्स’ (Make-up Removal Wipes) के विज्ञापन में दिखाया गया है कि एक महिला रात के समय कहीं जा रही है, तभी एक व्यक्ति उसका पीछा शुरू कर देता है. महिला डर जाती है और तेज-तेज चलने लगती है. पीछा करने वाला शख्स भी अपनी स्पीड बढ़ा देता है. तभी महिला अपने बैग में रखीं ‘मेकअप-रिमूवल वाइप्स’ निकालती है और अपना मेकअप हटा देती है और उसकी शक्ल पुरुषों जैसी हो जाती है, जिसे देखकर पीछा करने वाला शख्स भाग खड़ा होता है. 

ये भी पढ़ें -भारत की दरियादिली के मुरीद हुए China के रक्षा विशेषज्ञ, PLA सैनिक की रिहाई के लिए नई दिल्ली की तारीफ की

VIDEO

उल्टा पड़ा Company का दांव

चीनी कंपनी ने इस विज्ञापन के जरिए ये बताने का प्रयास किया कि उसका प्रोडक्ट कितना कारगर है, लेकिन उसका यह दांव उल्टा पड़ गया. लोगों ने इस विज्ञापन को महिला विरोधी करार दिया है. उनका कहना है कि विज्ञापन न केवल बलात्कार (Rape) जैसे अपराधों की शिकार महिलाओं का अपमान करता है, बल्कि यह संदेश देता है कि महिलाओं को रात में मेकअप करके घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए. यदि महिलाएं ऐसा करती हैं, तो उनका शोषण किया जाएगा. 

Media ने भी साधा निशाना

डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक, सोशल मीडिया के साथ ही चीनी मीडिया और महिलावादी संगठनों ने भी विज्ञापन के लिए Purcotton की आलोचना की है. चाइना वुमन न्यूज का कहना है कि ये विज्ञापन यौन शोषण का शिकार होने वालीं महिलाओं का अपमान करता है और हमलावरों को महिमामंडित करता है. इस विवादास्पद विज्ञापन को लेकर लोगों के गुस्से का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि शुक्रवार को चीन के ट्विटर कहे जाने वाले वीबो पर यह टॉपिक ट्रेंड कर रहा था. वहीं, कंपनी ने भारी विरोध को देखते हुए अपना विज्ञापन वापस ले लिया है.

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.