close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'हैजीबिस तूफान' ने जापान में दिखाना शुरू किया अपना भयंकर रूप, 26 की मौत, 175 घायल

 जापान में प्रलयकारी तूफान हैजीबिस के कारण तेज हवाओं व मूसलाधार बारिश से कम से कम 26 लोगों की मौत हो गई है. 

'हैजीबिस तूफान' ने जापान में दिखाना शुरू किया अपना भयंकर रूप, 26 की मौत, 175 घायल

टोक्यो: जापान में प्रलयकारी तूफान हैजीबिस के कारण तेज हवाओं व मूसलाधार बारिश से कम से कम 26 लोगों की मौत हो गई है. जापान ने तूफान से हुए नुकसान के आकलन व मानवीय सहायता के लिए बड़ा अभियान शुरू किया है. इससे बाढ़ के हालात पैदा हो गए हैं. समाचार एजेंसी एफे की रिपोर्ट के मुताबिक, बचाव एजेंसियों व जापानी मीडिया द्वारा स्थानीय अधिकारियों के हालिया आंकड़ों के हवाले से तूफान से अब तक 26 लोगों की मौत हुई है और मुख्य होन्शू द्वीप के मध्य, पूर्व और उत्तरी इलाकों में 18 लोग लापता हैं, जबकि अन्य 175 लोग घायल हैं.

सार्वजनिक प्रसारण एनएचके ने रविवार को एक हेलीकॉप्टर से बचाव के साथ-साथ आवासीय इलाकों में नावों चलने का फुटेज जारी किया है. 12 नदियों ने अपने किनारों को तोड़ दिया है. नागानो प्रांत में मूसलाधार बारिश से चिकुमा नदी से आसपास के इलाकों में बाढ़ आ गई है. इससे धारा में वाहन भी बह गए हैं. नागानो प्रांत तूफान से बुरी तरह से प्रभावित हुआ है.

तोचिगी प्रांत के सानो में अकियामा नदी में आई बाढ़ की वजह से आवासीय इलाके पानी से भरे हैं और बचाव टीम स्थानीय लोगों को बाहर निकाल रही है. स्थानीय समाचार एजेंसी क्योदो की रिपोर्ट के मुताबिक, केंद्रीय सरकार ने सेल्फ डिफेंस फोर्सेज (मिलिट्री) के करीब 27,000 जवानों को राहत कार्यो के लिए तैनात किया है.

देश का सड़क नेटवर्क भी प्रभावित हुआ है और कुछ इलाकों में आई बाढ़ ने उन्हें अलग-थलग कर दिया है. राजधानी के उत्तर क्वागो शहर में एक नर्सिग होम के 260 लोग फंस गए, जब वे ओप्पे नदी के बाढ़ के कारण एक पड़ोसी इमारत में आश्रय ले रहे थे. उन्हें बाद में एक नाव के जरिए बचाव दल ने बचाया.

अब आपको बताते हैं कि तूफान का नाम हेजिबीस क्यों रखा गया है.
हेजिबीस का मतलब तेज गति है. तूफान की रफ्तार की वजह से नाम रखा गया. समंदर में उठे इस तूफान की वजह से समंदर की लहरें सुनामी की तरह उठ रही थीं. तूफान जापान के होंशू द्वीप से टकराया और फिर होंशू द्वीप में तबाही का दौर शुरु हो गया. इसी दौरान भूकंप के झटके भी महसूस किए लेकिन भूकंप से जापान को बड़ा नुकसान नहीं हुआ है.

तूफान की वजह से आसमान में काले बादल छा गए और तेज हवा के साथ मूसलाधार बारिश होने लगी. हवा की रफ्तार इतनी तेज थी कि बिजली के खंभे भी अपनी जगह पर टिक नहीं सके. होंशू द्वीप में लकड़ी से बने घर इस तूफान को झेल नहीं सके और घरों की छतें उड़ने के साथ कई इलाकों में भारी तबाही हुई. 

इनपुट आईएएनएस से भी