close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बगदादी की मौत का वीडियो क्या आपने देखा? सिर्फ 49 सेकेंड में देखिए सबसे बड़ा सबूत

दुनिया के सबसे खूंखार आतंकी बगदादी का अंत कैसे हुआ? अंतिम पल में बगदादी क्या कर रहा था? देखिए किस तरह अमेरिकी सेना ने ऑपरेशन को अंजाम दिया. 

बगदादी की मौत का वीडियो क्या आपने देखा? सिर्फ 49 सेकेंड में देखिए सबसे बड़ा सबूत
बगदादी को अपने अंजाम तक पहुंचाने वाली अमेरिकी सेना ने ऑपरेशन की तस्वीरें शेयर की हैं....

नई दिल्ली: दुनिया के सबसे खूंखार आतंकी बगदादी का अंत कैसे हुआ? बगदादी के खात्मे के लिए किस तरह अमेरिकी कमांडोज ने ऑपरेशन चलाया? अंतिम पल में बगदादी क्या कर रहा था? आज हम आपको बगदादी के अंत के LIVE सबूत दिखाएंगे और बताएंगे कि किस तरह अमेरिकी सेना ने ऑपरेशन को अंजाम दिया. इस्लामिक स्टेट के आका अबु बक्र अल-बगदादी के मारे जाने की खबर तो पहले ही आ चुकी थी लेकिन सबको इंतजार था दुनिया के सबसे खूंखार आतंकी के आखिरी पल की तस्वीरों का. बगदादी को अपने अंजाम तक पहुंचाने वाली अमेरिकी सेना ने बगदादी का तो आखिरी वीडियो जारी नहीं किया है लेकिन उस ऑपरेशन की तस्वीरें और वीडियो को दुनिया को दिखाया जिसमें बगदादी मारा गया. 

ये तस्वीरें हैं सीरिया के इदलिब प्रांत की हैं जहां अमेरिका की डेल्टा फोर्स ने ऑपरेशन 'जैकपॉट' चलाया था. निशाने पर ISIS का सरगना अबु बकर अल बगदादी था. बगदादी के मारे जाने के चार दिन बाद अमेरिकी सेना ने ऑपरेशन का वीडियो जारी किया है.  49 सेकेंड के इस वीडियो में हम आपको दिखाएंगे कि कैसे अमेरिकी कमांडोज ने बगदादी और उसके ठिकाने को तबाह कर दिया. अमेरिका ने ऑपरेशन जैकपॉट के तीन वीडियोज़ जारी किए हैं. पहले वीडियो में आप जमीन पर ISIS के आतंकियों को देख सकते हैं. जैसे ही अमेरिकी हेलीकॉप्टर्स बगदादी के ठिकाने के पास पहुंचते हैं. वो इन आतंकियों की नजर में आ जाते हैं और ISIS के आतंकी अमेरिकी हेलीकॉप्टर्स पर फायरिंग शुरू कर देते हैं. जवाबी कार्रवाई में अमेरिकी कमांडोज भी आतंकियों पर बम बरसाते हैं. 

ऑपरेशन जैकपॉट का दूसरा वीडियो भी सामने आया है जिसमें वो घर दिख रहा है जिसमें बगदादी छुपा हुआ था और अमेरिकी डेल्टा फोर्स के कमांडोज़ बगदादी के ठिकाने की ओर बढ़ते दिख रहे हैं. डेल्टा फोर्स के कमांडोज़ बगदादी के इस ठिकाने के अंदर जाने के लिए दो तरफ से आगे बढ़ते हैं.. एक तरफ दो कमांडो जबकि दूसरी तरफ 7 कमांडोज नजर आ रहे हैं. बगदादी जिस कंपाउंड में छिपा था वो खाली मैदान के बीचों बीच बना हुआ था. घर के चारों तरफ बाउंड्री थी. आसपास छोटे-छोटे टेंट भी लगे नज़र आ रहे हैं. बगदादी इसी घर में अपने बच्चों औक महिलाओं के साथ छिपा था. अमेरिकी सेना ने बताया कि आखिरी पल में वो एक सुरंग में घुस गया था, जहां उसने खुद को दो बच्चों के साथ उड़ा लिया था. 

 

अमेरिकी सेंट्रल कमांड चीफ जनरल कैनेथ मैकेंज़ी जूनियर ने कहा, "बगदादी के आखिरी पलों के बारे में मैं आपको ये बता सकता हूं कि वो दो छोटे बच्चों के साथ एक सुरंग में घुस गया और खुद को उड़ा लिया, जबकि उसके लोग बाहर रहे. आप इससे बता सकते हैं कि वो किस तरह का व्यक्ति था. दोनों बच्चों की उम्र जो उनके साथ वहां थे, 12 साल से कम थी."

बगदादी जिस सुरंग में घुसा था वहां उसने अमेरिकी सैनिकों पर गोली भी चलायी थी लेकिन जब कोई रास्ता नहीं बचा तो गिड़गिड़ाने लगा था. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने कहा, "वो एक बीमार और अनैतिक व्यक्ति था. अब वो इस दुनिया से जा चुका है. बगदादी क्रूर और हिंसक व्यक्ति था. उसकी मौत भी क्रूर और हिंसक तरीके से हुई. अमेरिकी सैनिकों ने बगदादी को दौड़ाया और वो लगातार रो रहा था, चीख और चिल्ला रहा था." 

बगदादी अमेरिकी सैनिकों को निशाना बनाने के लिए किसी भी वक्त अपने आत्मघाटी जैकेट में विस्फोट कर सकता था इसलिए उसके पीछे यूएस स्पेशल ऑपरेशन फोर्सेज के ट्रेंड कुत्तों को लगाया गया. K9 यूनिट के खूंखार कुत्ते काफी देर तक बगदादी को दौड़ाते रहे. आखिरकार एक जगह सुरंग खत्म हो गई. बगदादी सुरंग के अंत में पहुंच गया था जहां डॉग स्कावड ने उसे पकड़ लिया. 

 

तीसरा वीडियो बगदादी के ठिकाने की तबाही का है. वीडियो में दिख रहा है कि किस तरह ऑपरेशन खत्म होने के बाद उस घर पर रॉकेट दागे जा रहे हैं...पल भर में बगदादी का ठिकाना तबाह हो जाता है. इस वीडियो में आपको अमेरिकी सेना उस कंपाउंड को तबाह करती नज़र आ रही है. जिसने भी इस कंपाउंड की पहले और बाद की तस्वीरें देखी हैं उसमें ये देखा जा सकता है कि वो अब एक बहुत बड़े गड्ढों वाला पार्किंग स्थल जैसा दिखता है. इस पूरे ऑपरेशन को बहुत अच्छे से प्लान किया गया था और उसी प्लान पर अमल किया गया. 

बगदादी के खात्मे और अमेरिकी ऑपरेशन के खत्म होने के बाद बगदादी का शव अंतरराष्ट्रीय नियमों के मुताबिक समुद्र में फेंक दिया गया लेकिन सवाल ये कि क्या बगदादी के मारे जाने के बाद ISIS के आतंक का अंत हो गया. इस सवाल के जवाब के लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ेगा क्योंकि ISIS की विचारधारा खत्म होगी इस पर अमेरिकी सैनिकों को भी शक है.