मिस्र हमले पर बोले ट्रंप, ईसाइयों के खिलाफ बंद होना चाहिए रक्तपात

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मिस्र में ईसाइयों पर हुए हमले को ‘बर्बर कत्लेआम’ करार दिया है और विभिन्न देशों का आह्वान किया है कि वे सभ्यताओं के खिलाफ युद्धरत आतंकवादियों को पराजित करें.

मिस्र हमले पर बोले ट्रंप, ईसाइयों के खिलाफ बंद होना चाहिए रक्तपात
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (फाइल फोटो)

वाशिंगटन : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मिस्र में ईसाइयों पर हुए हमले को ‘बर्बर कत्लेआम’ करार दिया है और विभिन्न देशों का आह्वान किया है कि वे सभ्यताओं के खिलाफ युद्धरत आतंकवादियों को पराजित करें.

ट्रंप ने कहा कि अमेरिका अपने मित्रों, सहयोगियों और साझेदारों को स्पष्ट कर देना चाहता है कि पश्चिम एशिया के ऐतिहासिक ईसाई समुदाय की रक्षा होनी चाहिए. ईसाइयों को निशाना बनाकर किए जाने वाले रक्पात पर विराम लगना चाहिए और हत्यारों को हर हाल में सजा मिलनी चाहिए. 

मिस्र की राजधानी काहिरा से 250 किलोमीटर दक्षिण में नकाबपोश बंदूकधारियों ने शुक्रवार को कॉप्टिक ईसाई समुदाय के लोगों को निशाना बनाकर अंधाधुंध गोलीबारी की जिसमें करीब 28 लोगों की मौत हो गई.

ट्रंप ने कहा, ‘आतंकवादी सभ्यता के खिलाफ युद्ध में लगे हुए हैं और जीवन का मूल्य समझने वालों को ही इस बुराई का मुकाबला करना और पराजित करना है.’ उन्होंने कहा कि निर्दोष लोगों की हत्या मानवता पर आघात है.