close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कश्मीर पर इमरान खान का 'मध्यस्थता कार्ड' फेल, ट्रंप ने कहा - भारत का तैयार होना जरूरी

कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने तगड़ा झटका देते हुए साफ कहा कि जब तक भारत नहीं चाहेगा, मध्यमस्थता नहीं करूंगा.

कश्मीर पर इमरान खान का 'मध्यस्थता कार्ड' फेल, ट्रंप  ने कहा - भारत का तैयार होना जरूरी
ट्रंप ने इमरान को तगड़ा झटका देते हुए कहा कि जब तक भारत नहीं चाहेगा, मध्यस्थता नहीं करूंगा.

न्यूयॉर्क: कश्मीर मुद्दे (Kashmir issue) पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) का मध्यस्थता कार्ड फेल हो गया है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने तगड़ा झटका देते हुए साफ कहा कि जब तक भारत नहीं चाहेगा, मध्यस्थता नहीं करूंगा. न्यूयॉर्क में ट्रंप से मुलाकात के दौरान इमरान खान ने गिड़गिड़ाते हुए कश्मीर के मुद्दे पर मध्यस्थता की मांग की लेकिन ट्रंप ने दो टूक जवाब देते हुए कहा कि भारत चाहेगा तो ही मध्यस्थता करूंगा. गौरतलब है कि कश्मीर के मुद्दे पर भारत किसी भी देश की मध्यस्थता स्वीकार नहीं करने के बारे में कई बार कह चुका है. भारत ने हमेशा द्विपक्षीय वार्ता को तरजीह देने की बात कही है. 

ट्रंप ने कहा, "नरेंद्र मोदी और इमरान खान दोनों मेरे अच्छे दोस्त हैं. मैं तैयार हूं. कश्मीर का मुद्दा जटिल है. अगर दोनों पक्ष तैयार हों तब ही मैं मध्यस्थतता कर पाऊंगा." ट्रंप से मुलाकात के दौरान इमरान खान ने इस बात का भी दुखड़ा रोया कि भारत बातचीत को तैयार नहीं है. इमरान खान ने कहा कि यह एक बड़े संकट की शुरुआत है. हम मामले को सुलझाने के लिए अमेरिका की ओर देखते हैं. 

LIVE टीवी:

पाकिस्तान से बातचीत के संबंध में भारत कई बार अपना रुख साफ कर चुका है कि जब तक वह सीमा पार से आतंकवाद बंद नहीं करेगा, बातचीत नहीं हो सकती.कुल मिलाकर कश्मीर पर इमरान खान की एक और चाल नाकाम हो गई है.

इससे पहले, पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendar Modi) ने रविवार को आतंकवाद (terrorism) पर पाकिस्तान (Pakistan) को खरी खरी सुनाई थी. ह्यूस्टन (Houston) में पीएम मोदी ने साफ कहा कि आतंकवाद के खिलाफ निर्णायक लड़ाई लड़नी होगी. ह्यूस्टन में हाउडी कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी ने पाकिस्तान का नाम लिए बगैर आतंकवाद पर निशाना साधा. पीएम मोदी ने कहा कि भारत जो कर रहा है, उससे कुछ ऐसे लोगों को भी दिक्कत हो रही है, जिनसे खुद अपना देश संभल नहीं रहा है. प्रधानमंत्री ने कहा कि आतंकवाद और उसे बढ़ावा देने वालों के खिलाफ अब निर्णायक लड़ाई लड़ने की जरूरत है.