दोहा में तालीबान-अफगानिस्तान शांति वार्ता की शुरुआत, वर्चुअल तरीके से मौजूद रहे विदेश मंत्री एस जयशंकर

भारत की ओर से अंतर अफगान सेरेमनी में विदेश मंत्री एस जयशंकर (MEA S Jayshankar) वर्चुअल मौजूद रहे, जो आज से शुरू हो गई.

दोहा में तालीबान-अफगानिस्तान शांति वार्ता की शुरुआत, वर्चुअल तरीके से मौजूद रहे विदेश मंत्री एस जयशंकर
भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर वर्चुअल तरीके से बातचीत में हुए शामिल

नई दिल्ली: भारत की ओर से अंतर अफगान सेरेमनी में विदेश मंत्री एस जयशंकर (MEA S Jayshankar) वर्चुअल मौजूद रहे, जो आज से शुरू हो गई. कार्यक्रम में भारत सरकार के पाकिस्तान (Pakistan), अफगानिस्तान (Afghanistan) और इरान(पीआईए) मामलों के संयुक्त सचिव जेपी सिंह भी मौजूद रहे.

30 देशों के प्रतिनिधि रहे मौजूद
इस बातचीत में 30 देशों के प्रतिनिधि मौजूद रहे. अफगानिस्तान ने इसमें इरान, पाकिस्तान और कई सेंट्रल एशियन देशों को भी आमंत्रित किया है. इस सेरेमनी के साथ ही अफगानिस्तान - तालीबान (Afghanistan-Taliban) के बीच वार्ता की शुरूआत हो गई. हालांकि तालीबान-अफगानिस्तान में आधिकारिक वार्ता की शुरुआत सोमवार से होगी.

अमेरिका-तालीबान समझौते के समय भी मौजूद था भारत
इस साल 29 फरवरी को अमेरिका-तालीबान (USA-Taliban) के बीच दोहा में समझौता हुआ था, जिसमें कतर में भारत के प्रतिनिधि पी. कुमारन मौजूद रहे थे.

अफगानिस्तान का महत्वपूर्ण सहयोगी है भारत
भारत अफगानिस्तान में विकास कार्यों का महत्वपूर्ण सहयोगी है. भारत अफगानिस्तान में कई बड़े प्रोजेक्ट चला रहा है. जिसमें हेरात में बने भारत-अफगानिस्तान मैत्री डैम के साथ ही राजधानी काबुल (Kabul) में अफगानिस्तान की संसद भवन का निर्माण भी शामिल है.

दोहा पहुंचा अफगानिस्तान का प्रतिनिधिमण्डल
अफगानिस्तान का प्रतिनिधिमण्डल शुक्रवार को दोहा पहुंच गया. तालीबान-अफगानिस्कान के बीच वार्ता की अगुवाई अफगान सरकार की तरफ से डॉ अब्दुल्लाह अब्दुल्लाह (Abdullaah Abdullah) करेंगे. उन्हें वार्ता के लिए नियुक्ति उच्चस्तरीय समिति का अध्यक्ष बनाया गया है. इसमें अफगानिस्तान के कार्यवाहक विदेश मंत्री मोहम्मद हनीफ अत्मार, अफगान राष्ट्रपति की ओर से शांति मामलों के विशेष प्रतिनिधि  अब्दुल सलाम रहीमी भी शामिल हैं. अब्दुल्लाह अब्दुल्लाह ने अपनी स्पीच में मानवता के लिए सीजफायर की अपील की.

तालीबान की तरफ से बातचीत की अगुवाई करेंगे अब्दुल गनी बरादर
तालीबान-अफगानिस्तान वार्ता में तालीबान की तरफ से अब्दुल गनी बरादर (Abdul Ghani Baradar) बातचीत की अगुवाई करेंगे. इस बातचीत में हिस्सा लेने के लिए माइक पॉम्पियो(Michael R. Pompeo) कतर में मौजूद हैं।

VIDEO