इक्वाडोर में भीषण भूकंप से अब तक 77 की मौत, 588 से ज्यादा लोग घायल, सुनामी की चेतावनी

इक्वाडोर के उप राष्ट्रपति ने बताया कि प्रशांत क्षेत्र के तटीय हिस्से में 7.8 तीव्रता का भीषण भूकंप आने से कम से कम 77 लोगों की मौत हो गई और सैकड़ों लोग घायल हो गए। उप राष्ट्रपति जॉर्ज ग्लास ने आज सुबह नवीनतम जानकारी देते हुए बताया ‘इस समय 77 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हो चुकी है।’ उन्होंने बताया कि भूकंप की वजह से 588 से अधिक लोग घायल हुए हैं। 

इक्वाडोर में भीषण भूकंप से अब तक 77 की मौत, 588 से ज्यादा लोग घायल, सुनामी की चेतावनी

क्विटो: इक्वाडोर के उप राष्ट्रपति ने बताया कि प्रशांत क्षेत्र के तटीय हिस्से में 7.8 तीव्रता का भीषण भूकंप आने से कम से कम 77 लोगों की मौत हो गई और सैकड़ों लोग घायल हो गए। उप राष्ट्रपति जॉर्ज ग्लास ने आज सुबह नवीनतम जानकारी देते हुए बताया ‘इस समय 77 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हो चुकी है।’ उन्होंने बताया कि भूकंप की वजह से 588 से अधिक लोग घायल हुए हैं। कल देर शाम पूरे इक्वाडोर के साथ साथ उत्तरी पेरू और दक्षिणी कोलंबिया में भूकंप महसूस किया गया। अधिकारियों ने इक्वाडोर के भूकंप से बुरी तरह प्रभावित छह प्रांतों में आपात स्थिति की घोषणा की है।

यूएस जियोलॉजिकल सर्वे (यूएसजीएस) की रिपोर्ट के अनुसार, आज इक्वाडोर में 7.8 तीव्रता का भीषण भूकंप आया। इसके तेज झटके राजधानी क्विटो में महसूस किए गए और स्थानीय तटों के लिए सुनामी की चेतावनी भी जारी की गई। प्रशांत सुनामी चेतावनी केंद्र ने कहा, ‘भूकंप के प्रारंभिक पैमानों के आधार पर भूकंप के केंद्र के 300 किलोमीटर के दायरे के अंदर पड़ने वाले तटों पर सुनामी की खतरनाक लहरें उठ सकती हैं।’ 

यूएसजीएस ने कहा कि यह भूकंप अंतरराष्ट्रीय समयानुसार रात 11 बजकर 58 मिनट पर क्विटो से 173 किलोमीटर पश्चिम-उत्तरपश्चिम में और मिज्न से महज 27 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिणपूर्व में आया। भूकंप का केंद्र 10 किलोमीटर की गहराई में था। भूकंप के तेज झटकों के कारण मकान ढह गए और इमारतें हिल गईं।

यूएसजीएस ने कहा कि दरअसल एक ही इलाके में 11 मिनट के अंतर पर दो भूकंप आ गए। पहले वाले भूकंप की तीव्रता 4.8 थी और दूसरे की तीव्रता 7.8 थी। इस बीच एपी की एक खबर के अनुसार, शहर के निवासियों ने ढह चुके मकानों, शॉपिंग सेंटर की गिरती छत और सुपरमार्केट की तेजी से हिलती अलमारियों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर साझा कीं। नियंत्रक टावर का भारी नुकसान होने के बाद मांता में हवाई अड्डे को बंद कर दिया गया।

एक सम्मेलन में शिरकत करने के लिए वेटिकन गए राष्ट्रपति राफेल कोरिया ने इक्वाडोर के निवासियों से मजबूती दिखाने की अपील की और प्रशासन से स्थितियों पर निगाह रखने की बात कही। उपराष्ट्रपति ग्लास ने कहा, ‘‘यह बेहद अहम है कि इस आपात स्थिति में इक्वाडोर निवासी शांति बनाए रखें।’

देश की राजधानी में 40 सेकेंड तक भूकंप के झटके महसूस किए गए और लोग डर के चलते सड़कों पर आ गए। क्विटो भूकंप के केंद्र से लगभग 170 किलोमीटर की दूरी पर है। भूकंप के कारण राजधानी के कई पड़ोसी इलाकों से बिजली चली गई और फोन बंद हो गए। क्विटों की सड़कों पर जमा लोगों में से एक विलेना ने कहा, ‘मैं घबराया हुआ हूं। मेरी इमारत बहुत अधिक हिली और सामान फर्श पर गिर गया। पड़ोसी चिल्ला रहे थे और बच्चे रो रहे थे।’ यूएसजीएस ने भूकंप की तीव्रता को पहले 7.4 बताया था लेकिन बाद में उसने इसे बढ़ाकर 7.8 कर दिया। पहले भूकंप के बाद कई झटके आते रहे, जिनमें से कुछ की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 5.6 की थी। गायाक्विल के अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे को संचार की कमी के चलते बंद कर दिया गया।