close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

यूरोपीय संघ की अदालत ने कहा, एकतरफा तरीके से ब्रेक्जिट को रद्द कर सकता है

यूरोपीय न्यायिक अदालत ने कहा कि ब्रिटेन को एकतरफा तरीके से यूरोपीय संघ से बाहर निकलने की अधिसूचना को रद्द करने का अधिकार है. 

यूरोपीय संघ की अदालत ने कहा, एकतरफा तरीके से ब्रेक्जिट को रद्द कर सकता है
फाइल फोटो

लक्जमबर्ग: यूरोप की शीर्ष अदालत ने सोमवार को व्यवस्था दी कि ब्रिटेन को यूरोपीय संघ के सदस्यों की मंजूरी के बिना भी ब्रेक्जिट (संघ छोड़ने) की प्रक्रिया को रद्द करने का हक है. ब्रिटेन की संसद के निचले सदन हाउस आफ कॉमंस में इस प्रस्ताव पर मत विभाजन के ठीक पहले इसे यूरोपीय संघ की सदस्या के समर्थकों की जीत के रूप में देखा जा रहा है. यूरोपीय न्यायिक अदालत ने कहा कि ब्रिटेन को एकतरफा तरीके से यूरोपीय संघ से बाहर निकलने की अधिसूचना को रद्द करने का अधिकार है. 

वर्ष 2016 के जनमत संग्रह के बाद ब्रिटेन ने पिछले साल 29 मार्च को यूरोपीय संघ से बाहर निकलने की मंशा जताई थी. यूरोपीय संघ की संधि की धारा 50 की प्रक्रिया के तहत ब्रिटेन इस नोटिस ठीक दो साल बाद यानी अगले साल इसी तिथि को संघ से अलग हो जाएगा. तहत उसे निश्चित रूप से दो साल बाद उसी तारीख तक यूरोपीय संघ से बाहर निकलना होगा.

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरिसा मे सरकार का कहना है कि उसका इस प्रक्रिया को रोकने का कतई इरादा नहीं है. सरकार ने 27 शेष सदस्य राष्ट्रों के साथ बाहर निकलने के करार के मसौदे पर सहमति दी है. बाहर निकलने का सरकार मंगलवार को ब्रिटेन की संसद में मंजूरी के लिए पेश किया जा सकता है.  

(इनपुट भाषा से)