अमेरिका में मध्यावधि चुनाव से पहले फेसबुक ने ब्लॉक किए 115 अकाउंट

फेसबुक की साइबर सुरक्षा नीति के प्रमुख नैथानील ग्लीचर ने पोस्ट में लिखा कि अमेरिका में कानून लागू करने वाली एजेंसी के अधिकारियों की सूचना पर कंपनी ने यह कार्रवाई की. 

अमेरिका में मध्यावधि चुनाव से पहले फेसबुक ने ब्लॉक किए 115 अकाउंट
(फाइल फोटो साभार - रॉयटर्स)

लंदन: फेसबुक ने कहा कि मंगलवार को अमेरिका में होने वाले मध्यावधि चुनावों के मद्देनजर उसने 115 अकाउंट को ब्लॉक किया है. विदेशी समूहों से जुड़े होने के संदेह में 'समन्वित अनौपचारिक व्यवहार' वाले ये अकाउंट अमेरिकी चुनाव में दखल का प्रयास कर रहे थे. 

सोशल मीडिया कंपनी ने बीते सोमवार को एक ब्लॉग पोस्ट में लिखा कि उसने फेसबुक पर 30 अकाउंट और तस्वीरें शेयर करने वाली साइट इंस्टाग्राम पर 85 अकाउंट को बंद कर दिया है और इस संबंध में विस्तार से जांच कर रही है.

फेसबुक की साइबर सुरक्षा नीति के प्रमुख नैथानील ग्लीचर ने पोस्ट में लिखा कि अमेरिका में कानून लागू करने वाली एजेंसी के अधिकारियों की सूचना पर कंपनी ने यह कार्रवाई की. अधिकारियों ने कंपनी को उन ऑनलाइन गतिविधि के बारे में सूचित किया जिनका पता हाल में चला था. उनका मानना था कि‘ये विदेशी संस्थाओं से जुड़ी हो सकती हैं.’ 

अमेरिकी प्रौद्योगिकी कंपनी ने भ्रामक, गलत सूचनाओं वाले अभियानों के खिलाफ लड़ाई के अपने प्रयास के तहत सुरक्षा बढ़ा दी है, क्योंकि रूसी समूह समेत ऑनलाइन परेशानी खड़े करने वाले लोग मतदाताओं को बांटने और लोकतंत्र की साख घटाने की कोशिश कर रहे हैं.

अमेरिका में 2016 के राष्ट्रपति चुनाव से पहले लोगों की राय को प्रभावित करने वाले रूसी समूहों ने इसी तरह का हथकंडा अपनाया था और इसी दुरुपयोग को रोकने के उपाय के तहत फेसबुक ने यह कदम उठाया है.

पिछले महीने कंपनी ने ऐसे 82 पेज, अकाउंट और ग्रुप को हटा दिया जो ईरान से जुड़े थे और इनका इरादा अमेरिका में सामाजिक संघर्ष को भड़काना था. ब्रिटेन में फेसबुक ने अगस्त में कहीं अधिक व्यापक कार्रवाई की थी और रूस एवं ईरान से संबद्ध ऐसे 652 पेज, ग्रुप और अकाउंट को हटा दिया था. ग्लीचर ने कहा कि जांच पूरी होने के बाद कंपनी विस्तार से जानकारी देगी कि कहीं ये अकाउंट रूस स्थित इंटरनेट रिसर्च एजेंसी या अन्य विदेशी संस्थाओं से तो नहीं जुड़े.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.