फेसबुक-गूगल ने भूकंप प्रभावित नेपाल में लोगों का पता लगाने के ऐप्प शुरू किए

नेपाल में भूकंप के बाद जहां कई लोग अपने प्रियजनों का पता लगा रहे हैं, गूगल ने ‘व्यक्ति का पता लगाने’ वाली सुविधा पेश की है जबकि फेसबुक ने लापता व्यक्तियों का पता लगाने और उनकी सूचना देने के लिए ‘सेफ्टी चेक’ सुविधा शुरू की है।

 फेसबुक-गूगल ने भूकंप प्रभावित नेपाल में लोगों का पता लगाने के ऐप्प शुरू किए

काठमांडो : नेपाल में भूकंप के बाद जहां कई लोग अपने प्रियजनों का पता लगा रहे हैं, गूगल ने ‘व्यक्ति का पता लगाने’ वाली सुविधा पेश की है जबकि फेसबुक ने लापता व्यक्तियों का पता लगाने और उनकी सूचना देने के लिए ‘सेफ्टी चेक’ सुविधा शुरू की है।

‘गूगल फाइंडर’ एक ऐसी सुविधा है जो प्राकृतिक या मानवीय आपदा के बाद व्यक्तियों को अपने मित्रों और प्रियजनों से जुड़ने में मदद करती है। शनिवार के 7.9 की तीव्रता वाले भूकंप के बाद गूगल ने व्यक्तियों का पता लगाने और उनके बारे में जानकारी देने में मदद के लिए अपने ‘पर्सन फाइंडर ऐप’ में एक हैंडल बनाया गया है।

इस ऐप्लीकेशन का लिंक गूगल के होमपेज डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू.गूगल.काम.एनपी पर मुहैया कराया गया है। ईकांतिपुर आनलाइन ने बताया कि वेबसाइट का दावा है कि वह वर्तमान में 5300 रिकार्ड का पता लगा रहा है।

इस बीच फेसबुक ने भी नेपाल में भूकंप के मद्देनजर ‘सेफ्टी चेक’ फीचर सक्रिय कर दिया है। यह सुविधा उपयोगकर्ताओं को मित्रों और परिवार को यह सूचित करने में मदद करती है कि वे आपदा क्षेत्र के बीच में सुरक्षित हैं। फेसबुक इंजीनियरों ने इस सुविधा को 2011 में जापान में भूकंप और सूनामी के बाद विकसित किया था।