Zee Rozgar Samachar

आखिर फिनलैंड में क्यों रहना चाहते हैं US, UK और कनाडा के Tech Professionals? 5,300 से अधिक मिले आवेदन

इमीग्रेशन और रिलोकेशन यानी आप्रवास- पुनर्वास के लिए फिनलैंड बहुत लोकप्रिय देश नहीं है, बावजूद इसके यहां रहने के लिए अब तक अमेरिका, कनाडा और ब्रिटेन जैसे देशों से 5,300 आवेदन आए हैं. 

आखिर फिनलैंड में क्यों रहना चाहते हैं US, UK और कनाडा के Tech Professionals? 5,300 से अधिक मिले आवेदन
फिनलैंड की तस्वीर

नई दिल्लीः फिनलैंड (Finland) ने हाल ही में अमेरिका के चयनित तकनीकि पेशेवरों (US tech professionals) के लिए '90 डे फिन' प्रोग्राम का ऐलान किया था और इस घोषणा के एक माह के अंदर ही देश को अब तक 5,300 से अधिक आवेदन मिल चुके हैं. नवंबर के पहले सप्ताह में शुरू हुए इस कार्यक्रम के तहत, अमेरिका के तकनीकी पेशेवर 90 दिनों तक फिनलैंड में रहकर वहां की लाइफ को देख सकते हैं. इसके बाद यदि उनका मन यहां स्थाई रूप से रहने के लिए करता है तो वे इस पर भी विचार कर सकते हैं.

इमीग्रेशन और रिलोकेशन के लिए लोकप्रिय देश नहीं है फिनलैंड

बता दें कि इमीग्रेशन और रिलोकेशन यानी आप्रवास- पुनर्वास के लिए फिनलैंड बहुत लोकप्रिय देश नहीं है. हालांकि एक क्रिएटिव लिस्ट में अपनी जगह बनाने के लिए फिनलेंड ने ये प्रोग्राम शुरू किया है. हेलसिंकी बिजनेस हब से जुड़े योहाना हुरे का कहना है कि ''हम जानते हैं कि हम उन देशों की सूची में नहीं हैं, जहां आकर लोग बसना चाहते हों. हालांकि, हमें भरोसा है कि जो एक बार आकर यहां के हालात देखेगा, वह फिनलैंड में जरूर रहना चाहेगा. आज दुनिया में प्रतिभाओं को आकर्षित करने की बहुत कड़ी होड़ है. इसलिए हमने ये योजना निकाली है.'' हुरे के मुताबिक, ''जिन देशों से फिनलैंड को सबसे ज्यादा आवेदन मिले हैं, उनमें अमेरिका और कनाडा प्रमुख हैं.

ये भी पढ़ें-कोविड-19 से शख्स की मौत, मरने से पहले पत्नी के नाम लिखा भावुक करने वाला Love Letter

फिनलैंड जाना चाहते अमेरिका और कनाडा के 30 फीसदी पेशेवर

लगभग 30 फीसदी आवेदन अमेरिका और कनाडा से आए हैं, जहां के लोगों को 90 दिवसीय परीक्षण अवधि की योजना (90-day trial period scheme) काफी पसंद आई और वे यहां आकर अपना हुनर दिखाना चाहते हैं. अमेरिका और कनाडा के अलावा ब्रिटेन के तमाम लोगों ने भी फिनलैंड के इस प्रोग्राम में दिलचस्पी दिखाई है.  दक्षिण प्रशांत के द्वीप वनुआतू से भी लोगों ने आवेदन भेजे हैं. कोरोना महामारी के संकट के समय में हर पेशेवर अपने जीवन में बदलाव लाने की सोच के साथ आगे बढ़ रहा है. लगभग 60 आवेदन ऐसे लोगों हैं जो स्थानीय संसाधनों (local resources) यानी यहां आकर स्टार्ट अप कंपनियां खोलकर निवेश करना चाहते हैं और इस पर निर्माण कर रहे हैं. अधिकतर लोग यहां आकर नौकरी करने के इच्छुक हैं.

ये भी पढें-Jack Ma के पीछे हाथ धो कर पड़ी है Xi Jinping की सरकार, वजह जानकर होगी हैरानी

हालांकि, अब फिनलैंड आवेदनों को स्वीकार नहीं कर रहा है. अब तक जिनका चयन हो चुका है जल्द ही उनसे सभी आवश्यक दस्तावेज देंगे. आवेदक को हेलसिंकी में और उनके नजदीकी क्षेत्र में आवास, स्कूल / डेकेयर, दूरस्थ कार्य सुविधाएं (remote working facilities) टेक हब और नेटवर्क के सुझावों के बारे में जानकारी दी जाएगी. जहां पर रहकर वे अपना काम करेंगे. 

VIDEO

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.