जर्मनी: चांसलर एंजेला मर्केल का दोबारा चुनाव से इनकार, पार्टियों से वार्ता नाकाम

मर्के ने पार्टी सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा था कि वह जल्द से जल्द सरकार का गठन करना चाहती हैं.

जर्मनी: चांसलर एंजेला मर्केल का दोबारा चुनाव से इनकार, पार्टियों से वार्ता नाकाम
जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल. (फाइल फोटो)

बर्लिन: जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने फ्री डेमोक्रेटिक पार्टी (एफडीपी) और ग्रीन्स के साथ गठबंधन सरकार पर वार्ता असफल होने के बाद दोबारा चुनाव कराने की संभावनाओं को शनिवार (25 नवंबर) को खारिज कर दिया. उन्होंने कहा कि वह जल्द से जल्द नई सरकार का गठन करना चाहती हैं. मर्केल ने पूर्वोत्तर जर्मनी में क्रिस्टिन डेमोक्रेटिक यूनियन (सीडीयू) के पार्टी सम्मेलन में कहा ,"जनता ने वोट किया है और यदि हम नतीजे आने के बाद भी कुछ करने में नाकाम रहते हैं तो मैं लोगों को दोबारा वोट देने को कहने के पक्ष में बिल्कुल भी नहीं हूं."

मर्केल 12 वर्षों के कार्यकाल में पहली बार गंभीर राजनीतिक संकट का सामना कर रही हैं. देश में नई सरकार के गठन को लेकर 19 नवंबर को विभिन्न पार्टियों की वार्ता असफल हो गई थी. एफडीपी ने 24 सितंबर को संघीय चुनाव के बाद नई सरकार के गठन के लिए ग्रीन्स, सीडीयू और बावेरियन क्रिस्टिन सोशल यूनियन (सीएसयू) के साथ वार्ता खत्म करने का फैसला किया था.

मर्के ने पार्टी सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा था कि वह जल्द से जल्द सरकार का गठन करना चाहती हैं. देश को स्थाई सरकार चाहिए लेकिन इसके साथ ही एक ऐसी सरकार भी चाहिए, जो देश को विकास की राह पर ले जाए. सीडीयू नेता ने यह भी कहा कि सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी (एसपीडी) के साथ वार्ता आपसी सम्मान के आधार पर होनी चाहिए थी और समझौता इसका हिस्सा है.

जर्मनी के राष्ट्रपति फ्रैंक वाल्टर स्टेनमीयर ने महागठबंधन के लिए मर्केल, एसपीडी नेता मार्टिन स्कल्ज और सीएसयू नेता होर्स्ट सीहोफर को अगले सप्ताह होने वाली बैठक के लिए आमंत्रित किया है, जिसमें एक अन्य महागठबंधन पर चर्चा होगी. एसपीडी ने संघीय चुनाव में करारी हार के बाद यूनियन के साथ हाथ मिलाने से बार-बार इनकार किया है. स्कल्ज ने शुक्रवार को नरम रुख अपनाते हुए कहा कि उनकी पार्टी यूनियन के साथ वार्ता करने की इच्छुक है.