एंजेला मर्केल ने कहा, ईरान के तर्ज पर उत्तर कोरिया से वार्ता के लिए जर्मनी तैयार

चासंलर का बयान ऐसे समय में आया है जब वॉशिंगटन ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सोमवार (11 सितंबर) को प्योगयांग पर कड़े प्रतिबंध लाने के लिए वोट की अपील की है.

एंजेला मर्केल ने कहा, ईरान के तर्ज पर उत्तर कोरिया से वार्ता के लिए जर्मनी तैयार
मर्केल ने कहा, “उत्तर कोरिया संघर्ष समाप्त करने के लिए मैं इस तरह के समझौते की कल्पना कर सकती हूं.'' (फाइल फोटो)

फ्रैंकफर्ट एम मैन: जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने आज कहा है कि जर्मनी ईरान के साथ हुए समझौते के तर्ज पर उत्तर कोरियाई परमाणु हथियार और मिसाइल कार्यक्रम को खत्म करने के लिए कूटनीतिक रूप से मदद करने को तैयार है. मर्केल ने सप्ताहिक समाचार पत्र एफएएस को बताया, “अगर हमें वार्ता में शामिल होने के लिए कहा गया तो मै तत्काल ‘हां’ कहूंगी.” उन्होंने कहा, “ईरान और छह महाशक्तियों के बीच साल 2015 में एक समझौता हुआ था. इसके तहत तेहरान को अपने परमाणु कार्यक्रम को वापस लेना था और इससे संबंधित जांच के लिये अपने परमाणु केंद्रों के दरवाजे खोलने थे, जिसके बाद ईरान से कुछ प्रतिबंध हटाए जा रहे हैं. यह काफी लंबा समय था, लेकिन कूटनीति के हिसाब से महत्वपूर्ण था.”

मर्केल ने कहा, “उत्तर कोरिया संघर्ष समाप्त करने के लिए मैं इस तरह के समझौते की कल्पना कर सकती हूं. यूरोप और खासतौर पर जर्मनी इसमें सक्रिय योगदान के लिए तैयार है.” चासंलर का बयान ऐसे समय में आया है जब वॉशिंगटन ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में सोमवार (11 सितंबर) को प्योगयांग पर कड़े प्रतिबंध लाने के लिए वोट की अपील की है.

किम जोंग उन ने छठे परमाणु परीक्षण को बताया 'महान जीत'

उत्तर कोरिया के शीर्ष नेता किम जोंग उन ने देश के छठे परमाणु परीक्षण को एक 'बड़ी जीत' करार देते हुए परीक्षण से जुड़े अधिकारियों और विशेषज्ञों की सराहना की है. तीन सितम्बर को उत्तरी कोरिया की सेना ने दावा किया कि उसने एक हाइड्रोजन बम का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है जो अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल से लक्ष्य भेदने में सक्षम है. 'एफे' ने कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी (केसीएनए) के हवाले से बताया कि परमाणु परीक्षण की सफलता का जश्न मनाने के लिए शनिवार (9 सितंबर) को राजधानी में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें किम ने कहा कि परमाणु परीक्षण एक बड़ी सफलता रही जिसे देश के लोगों ने अपने खून की कीमत पर हासिल किया है.

'केसीएनए' द्वारा जारी तस्वीरों में किम सेना के उप मार्शल ह्वांग प्योंग-सो, वर्कर्स पार्टी के उपाध्यक्ष चोइ रयोंग-हेई और प्रधानमंत्री पाक पोंग-जू सहित उत्तर कोरिया के शीर्ष अधिकारियों के साथ एक मेज पर नजर आ रहे हैं. किम ने इस दौरान हाथ में एक टोस्ट उठाकर इस परीक्षण को अंजाम देने वाले 'इंजीनियरों और विशेषज्ञों के इस महान काम' के लिए प्रशंसा की.