लंबी स्कर्ट पहनने पर स्कूल से घर भेजी गई मुस्लिम लड़की

फ्रांस में कैथोलिक से इस्लाम स्वीकार करने वाली 16 साल की लड़की को लंबी स्कर्ट पहनने की वजह से स्कूल में आने से प्रतिबंधित कर दिया गया और प्रधानाध्यपक ने इसे ‘दिखावटी धार्मिक प्रतीक’ करार दिया। समाचार पत्र ‘नूवेल ओब्स’ ने खबर दी है कि फ्रांस की मुस्लिम महिलाओं के बीच जो स्कर्ट मशहूर है वो घुटनों से नीचे तक होती है।

लंदन : फ्रांस में कैथोलिक से इस्लाम स्वीकार करने वाली 16 साल की लड़की को लंबी स्कर्ट पहनने की वजह से स्कूल में आने से प्रतिबंधित कर दिया गया और प्रधानाध्यपक ने इसे ‘दिखावटी धार्मिक प्रतीक’ करार दिया। समाचार पत्र ‘नूवेल ओब्स’ ने खबर दी है कि फ्रांस की मुस्लिम महिलाओं के बीच जो स्कर्ट मशहूर है वो घुटनों से नीचे तक होती है।

पेरिस के उपनगरीय इलाके में स्थित सेने एत मार्ने स्कूल के प्रधानाध्यपक ने कहा कि इस लड़की ने जो स्कर्ट पहनी थी उससे उसका धार्मिक जुड़ाव दिखता है जिसे फ्रांस के स्कूलों द्वारा प्रतिबंधित किया गया है। स्कूलों में धर्मनिरपेक्षता से जुड़े साल 2004 के कानून के अनुसार शिक्षण प्रतिष्ठानों में नकाब, यहूदी पोशाक और लंबा ईसाई क्रॉस पहनने पर रोक है, लेकिन ‘विचारशील धार्मिक प्रतीकों’ की इजाजत होती है।

‘द लोकल फ्रांस’ की खबर के अनुसार इस लड़की की मां ने स्कूल प्रशासन के समक्ष शिकायत दर्ज कराई। बच्ची के माता-पिता की स्कूल प्रशासन के साथ बैठक होने वाली है जिसमें इस विवाद का निवारण होना है। इस लड़की की मां ने कहा, 'हां, मेरी बेटी ने इस्लाम धर्म स्वीकार कर लिया है। मैंने हमेशा उसकी पसंद का समर्थन किया है। इस साल की शुरुआत में मैंने उसे नकाब पहनने की इजाजत दे दी। वह स्कूल जाने के लिए लंबी ड्रेस पहनती है।'