UN महासचिव गुतारेस ने कहा- दो बड़ी वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं के बीच बढ़ते तनाव से परेशान हूं
Advertisement
trendingNow1558278

UN महासचिव गुतारेस ने कहा- दो बड़ी वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं के बीच बढ़ते तनाव से परेशान हूं

गुतारेस ने कहा, 'हमें शीत युद्ध से सबक लेने की जरूरत है और नए युद्ध से बचने की जरूरत है.' 

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस  (फाइल फोटो साभार- रॉयटर्स)

संयुक्त राष्ट्र: व्यापारिक और भू-राजनीतिक तनावों के बढ़ने के साथ संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने चेताया है कि दुनिया दो प्रतिस्पर्धी समूहों में बंट सकती है, जिनमें एक का नेतृत्व अमेरिका करेगा और दूसरे का चीन. 

चीन व अमेरिका के बीच के तनावों का जिक्र करते हुए गुटेरेस ने कहा, 'दो बड़ी वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं के बीच बढ़ते तनाव से मैं परेशान हूं.' हालांकि, गुतारेस ने चीन व अमेरिका का नाम नहीं लिया.

गुतारेस ने कहा, 'हमें शीत युद्ध से सबक लेने की जरूरत है और नए युद्ध से बचने की जरूरत है.' वैश्विक तौर पर खतरों का विवरण देते हुए गुटेरेस ने 'शांति के लिए कूटनीतिक प्रयास तेज करने' का वादा किया. 

शीत युद्ध के परिदृश्य की तरफ संभावित वापसी के बारे में उन्होंने कहा, 'भविष्य में ज्यादा दूर नहीं जाते हुए मैं दो प्रतिस्पर्धी समूहों का उदय होता देखता हूं. इसमें प्रत्येक के पास अपनी मुद्रा, व्यापार और वित्तीय नियम, उनके खुद के इंटरनेट और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस रणनीति और उनके विरोधाभासी भू-राजनीतिक व सैन्य दृष्टिकोण हैं.'

उन्होंने कहा, 'हमारे पास अभी भी इससे बचने का समय है.. नेतृत्व के रणनीतिक सहयोग के प्रति प्रतिबद्धता व प्रतिस्पर्धा के हितों के प्रबंधन से हम दुनिया को एक सुरक्षित रास्ते पर ले जा सकते हैं.'

यह उभरता खतरा अमेरिका व चीन के बीच कई मोर्चो पर दिख रहा है. इसमें अमेरिका व चीन के बीच अवरुद्ध बातचीत के बीच टैरिफ व जावाबी टैरिफ का व्यापार युद्ध शामिल है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने गुरुवार को 300 अरब डॉलर के चीनी सामानों के आयात पर 10 फीसदी कर की घोषणा की.

अमेरिका संभावित जासूसी के डर के बीच चीन की 5जी संचार प्रणाली के अपनाने पर रोक लगाने की कोशिश कर रहा है. इसमें हिंद-प्रशांत क्षेत्र में चीन व दूसरे लोकतंत्र के बीच टकराव शामिल है. चीन 'वन रोड, वन बेल्ट' के जरिए अपने व्यापार व विकास को विस्तार दे रहा है. 

Trending news