क्या कोरोना के खिलाफ 'जंग' में डोनाल्‍ड ट्रंप की टीम ने किया सरेंडर?

व्हाइट हाउस की रेस में ट्रंप के प्रतिद्वंदी जो बाइडेन ने भी ट्रंप पर महामारी के आगे आत्मसमर्पण करने का आरोप लगाया है. अपने अभियान के दौरान जारी किए एक बयान में, बाइडेन ने कहा कि ट्रंप प्रशासन में काम कर रहे लोगों ने भी मानो हार स्वीकार कर ली है. 

क्या कोरोना के खिलाफ 'जंग' में डोनाल्‍ड ट्रंप की टीम ने किया सरेंडर?
अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव हर दिन बीतने के साथ और दिलचस्प मोड़ लेता जा रहा है....

वाशिंगटन : ऐसा लगता है कि ट्रम्प प्रशासन (Trump Administration) ने आखिरकार कोरोना महामारी के आगे सरेंडर कर दिया है. व्हाइट हाउस के एक अधिकारी के बयान के बाद ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं. दरअसल व्हाइट हाउस ( White House) के चीफ ऑफ स्टाफ मार्क मीडोज (Chief of staff Mark Meadows) ने सीएनएन के पत्रकार जेक टैपर से कहा कि 'हम महामारी को नियंत्रित करने के बजाए सभी को वैक्सीन (Corona vaccine) देने पर फोकस कर रहे हैं वहीं समुचित इलाज और संक्रमण को फैलने से रोकने पर प्रशासन ध्यान दे रहा है. 

बयान के कई मायने
सीएनएन और वाशिंगटन पोस्ट पर प्रसारित हुए ट्रंप प्रशासन के इस बड़े अधिकारी के बयान के कई मायने निकाले जा रहे हैं. कुछ लोगों का मानना है कि ट्रंप के मातहत अधिकारी का ये बयान उनकी टीम द्वारा किया गया आत्मसमर्पण है.

सबसे ज्यादा डेथ रेट?
महामारी से अमेरिका में अब तक 2,30,000 नागरिकों की मौतों हो चुकी है. राष्ट्रपति चुनाव से ठीक पहले बनी इस स्थिति के मुताबिक लोगों ने आरोप लगाया है कि राष्ट्रपति ट्रंप की लापरवाही की वजह से रोजाना एक हजार लोगों की मौत हो रही है. 

अमेरिका में ट्रंप के विरोधी शुरुआत से ही महामारी पर काबू नहीं कर पाने का आरोप लगा रहे थे. ट्रंप ने कोरोना काल के दौरान भी मास्क और सोशल डिस्टेंसिग की पालना करने से परहेज किया था. और यही वजह है कि देश की अर्थव्यवस्था को संभालने का दावा करने वाली ट्रंप की टीम को महत्वपूर्ण सवालों का जवाब नहीं सूझ रहा है. 

ये भी देखें -  सगी आंटी ने हनीमून पैकेज के नाम पर फंसाया, कपल को मिली 10 साल की कैद

सिर्फ चुनाव पर फोकस
वहीं ट्रंप को करीब से जानने वालों का कहना है कि तीन नवंबर को होने जा रहे चुनाव में महामारी का मुद्दा वोटिंग पैटर्न को प्रभावित कर सकता है. अमेरिका में एक दिन में रेकार्ड कोरोना पाए जाने के अगले दिन ट्रंप ने उत्तरी कैरोलिना के लुम्बरटन में जनसभा की थी और उस दौरान भी वो मास्क और दूरी से बेपरवाह दिखाई दिए थे.

ट्रंप का अजीबोगरीब दावा
अपनी स्पीच में ट्रंप ने पुरानी बात दोहराते हुए कहा कि लगातार टेस्टिंग बढ़ने की वजह से रोज के नए मामलों की तादात में बढोत्तरी हो रही है यानी अगर जांच का दायरा कम कर दें तो कोरोना के केस भी आधे रह जाएंगे. 

फ्लू से कोरोना की तुलना
गौरतलब है कि इससे पहले भी ट्रंप ने कई बार ये बयान दिया था कि कोरोनावायरस से डरने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि ये वायरस सामान्य फ्लू जैसा है. इसके बाद के एक और मंच पर ट्रंप ने कहा था कि, वो महामारी की शुरुआत से ही इस बात पर फोकस कर रहे थे कि इसकी वजह से देश में कोई दहशत न फैले.

प्रतिद्वंदी ने उठाए सवाल
व्हाइट हाउस की रेस में ट्रंप के प्रतिद्वंदी जो बाइडेन ने भी ट्रंप पर महामारी के आगे आत्मसमर्पण करने का आरोप लगाया है. अपने अभियान के दौरान जारी किए एक बयान में, बाइडेन ने कहा कि ट्रंप प्रशासन में काम कर रहे लोगों ने भी मानो हार स्वीकार कर ली है. 

आगे चल रहे हैं बाइडेन
डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बाइडेन नेशनल पोल्स के लिए ट्रंप के ऊपर करीब दस अंकों की बढ़त बनाए हुए हैं और हैरानी की बात ये भी है कि ट्रंप रिपब्लिकंस के गढ़ में भी पिछड़ते नजर आ रहे हैं.

(इनपुट एजेंसियों से)

 

LIVE TV