पाकिस्तान में निशा को जबरन बनाया सकीना, पिता की गुहार पर कोई नहीं दे रहा ध्यान

पाकिस्तान में एक बार फिर से हिंदू लड़की को जबरन मुस्लिम बनाया गया है.

पाकिस्तान में निशा को जबरन बनाया सकीना, पिता की गुहार पर कोई नहीं दे रहा ध्यान
निशा का धर्म बदलकर उसकी शादी मुस्लिम लड़के से करा दी गई है.

नई दिल्लीः पाकिस्तान में एक बार फिर से हिंदू लड़की को जबरन मुस्लिम बनाया गया है. कलीम दीन (@KaleemDean) ने ट्वीट किया है कि हिंदू लड़की निशा को जबरन इस्लाम कबूल कराया गया और उसकी शादी मुस्लिम लड़के से करा दी गई है. अन्य मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि निशा को अगवा कर मदरसे में ले जाया गया और जबरन उसका धर्मांतरण कर दिया गया. हालांकि मदरसे की ओर से ऐलान किया गया है कि निशा ने स्वेच्छा से इस्लाम कबूल किया है. यह मामला सिंध के घोटकी जिले के भरचंडी इलाके का बताया जा रहा है. निशा अकील इलाके की मंदिर वाली गली में रहती है. निशा का धर्मांतरण करने के बाद उसका नाम सकीना कर दिया गया है. आरोप है कि सकीना से जबरदस्ती कहलाया गया है कि उसने अपनी इच्छा से इस्लाम कबूल किया है और उसने एक मुस्लिम युवक से निकाह भी कर लिया है.

निशा के पिता दीवान मल ने पुलिस में इसकी शिकायत की है. साथ ही इलाके के रसूखदार मुसलमानों से बेटी की साथ हुई ज्यादती की गुहार लगाई. मानवाधिकार कार्यकर्ता कपिलदेव सिंधी ने भी आरोप लगाया है कि निशा को जबरन मुस्लिम बनाया गया है.

ये भी पढ़ें: भारत ने कराची में करवाई चीनी नागरिक की हत्या, तबाह करना चाहता है CPEC: पाकिस्तान

पत्रकार मुस्तफा जटोई ने सकीना बनी निशा की फोटो के साथ ट्वीट करके कहा है कि कोई मुझे बताएगा कि हिंदू समुदाय की केवल लड़कियां ही इस्लाम क्यों अपना रही हैं? कोई हिंदू लड़का ऐसा क्यों नहीं करता? वहीं पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी से जुड़े जफर शाह ने ट्वीट किया है कि क्या निशा को जबरन सकीना बनाना पाकिस्तान में हिंदुओं का संहार नहीं है? उन्होंने अपने ट्वीट में पार्टी की जानी-मानी नेता शेरी रहमान को भी टैग किया है.

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान के हनीट्रैप में फंसा एयरफोर्स का ग्रुप कैप्टन, ISI को सीक्रेट डॉक्‍यूमेंट देने के आरोप में गिरफ्तार

इस घटना पर किसी सियासी दल या पुलिस ने कोई एक्शन नहीं लिया है. समाज के कुछ लोग इस घटना की निंदा जरूर कर रहे हैं, लेकिन निशा या उसके पिता की मदद के लिए कोई आगे नहीं आ रहा है.