Zee Rozgar Samachar

New Year की आतिशबाजी में सैंकड़ों बेजुबानों का 'नरसंहार', Covid-19 नियमों की उड़ी धज्जियां

 नए साल की पूर्व संध्या पर इटालियन (Italian) राजधानी रोम में 2021 के वेलकम और 2020 की विदाई की आतिशबाजी के चलते सैंकड़ों पक्षियों (Birds) की मौत हो गई. समूह ने इसे ‘नरसंहार’ बताया है. 

New Year की आतिशबाजी में सैंकड़ों बेजुबानों का 'नरसंहार', Covid-19 नियमों की उड़ी धज्जियां
फोटो (ट्विटर)

नई दिल्लीः नए साल 2021 (Happy New Year) के स्वागत में इटली की राजधानी रोम में रात को हुई आतिशबाजी (Fire Crackers) के कारण सैंकड़ों पक्षी मारे (Birds Died) गए हैं. पशु अधिकार समूहों ने इस घटना को 'नरसंहार' करार दिया है. इस आतिशबाजी के जरिए न्यू इयर को सेलिब्रेट कर भले ही कुछ लोगों को खुशियां मिली हों लेकिन इसमें सैकडों बेजुबानों की जानें भी गई हैं. 

सड़कों पर बिछ गईं पक्षियों की लाशें

पशु अधिकार समूह (Protection of Animals) (OIPA) ने शुक्रवार को बताया कि ''नए साल की पूर्व संध्या पर इटालियन (Italian) राजधानी रोम में 2021 के वेलकम और 2020 की विदाई की आतिशबाजी के चलते सैंकड़ों पक्षियों (Birds) की मौत हो गई. समूह ने इसे ‘नरसंहार’ बताया है.'' सोशल मीडिया पर भी इन पक्षियों की तस्वीर काफी वायरल हो रही है. एक फुटेज में रोम के मुख्य स्टेशन के पास दर्जनों की संख्या में पक्षी जमीन सड़क पर बेजान बिखरे नजर आए. हालांकि, अभी तक इन बेजुबानों की मौत के कारणों का पता नहीं चल पाया है, लेकिन इंटरनेशनल ऑर्गेनाइजेशन फॉर द प्रोटेक्शन ऑफ एनिमल्स ने कहा कि पक्षियों के घोसलों के पास आतिशबाजी की गई है जिसके चलते उनकी मौतें हुई हैं. 

 

 

पक्षियों की मौत के हो सकते हैं ये कारण

रोम (Rome) में इतनी बड़ी संख्या में पक्षियों (Birds) की मौत से जाहिर होता है कि वहां के नागरिकों ने रात 10 बजे के बाद के नाइट कर्फ्यू को नजरअंदाज किया और कोविड-19 (covid-19 के प्रकोप के दौरान लगाए गए सरकारी नियमों की भी धज्जियां उड़ाई हैं. पक्षियों की भारी संख्या में मौत को लेकर पशु अधिकार संगठन की एक प्रवक्ता लॉर्डाना डिग्लियो (Loredana Diglio) ने कहा कि ''हो सकता है कि वो डर से मर गए हों. हो सकता है वो एक साथ उड़े हों और एक दूसरे से या बिजली के तारों या खिड़कियों से टकरा गए हों. हमें ये नहीं भूलना चाहिए कि वो हार्ट अटैक से भी मर सकते हैं.''

ये भी पढ़ें-शांतिदूत बनकर Congo गया पाकिस्तानी कर्नल UN कर्मचारियों का करा रहा था धर्म परिवर्तन, जांच के आदेश

उन्होंने आगे कहा कि हर आतिशबाजी जंगली और घरेलू जानवरों के लिए संकट और चोट का कारण बनती है. रोम में इतनी बड़ी संख्या में पक्षियों की मौत ये दिखाती है कि लोगों ने व्यक्तिगत आतिशबाजी पर प्रतिबंध और कोरोना प्रतिबंधों के चलते रात 10 बजे के बाद के नाइट कर्फ्यू को नजरअंदाज किया. OIPA की इटेलियन शाखा ने जानवरों के लिए खतरे का हवाला देते हुए पटाखों को बेचने और निजी रूप से आतिशबाजी पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है.

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.