समय-सीमा समाप्त होने के बावजूद अमेरिकी संरक्षण में हैं मां-बाप से अलग किए 700 बच्चे

अमेरिकी सरकार ने कहा कि मेक्सिको की सीमा पर उसने सैकड़ों परिवारों से उनके बच्चों को अलग कर के जो रखा था, उन्हें अदालती आदेश में तय समयसीमा खत्म होने के बावजूद मिलवाया नहीं गया है.

समय-सीमा समाप्त होने के बावजूद अमेरिकी संरक्षण में हैं मां-बाप से अलग किए 700 बच्चे
सरकार ने कहा है कि अदालत की समयसीमा पूरी की गई है.(फाइल फोटो)

लॉस एंजिलिस: अमेरिकी सरकार ने कहा कि मेक्सिको की सीमा पर उसने सैकड़ों परिवारों से उनके बच्चों को अलग कर के जो रखा था, उन्हें अदालती आदेश में तय समयसीमा खत्म होने के बावजूद मिलवाया नहीं गया है. कैलीफोर्निया की एक संघीय अदालत के न्यायाधीश ने कहा कि स्थानीय समयानुसार छह बजे शाम तक सभी योग्य परिवारों को एकजुट किया जाए.

अधिकारियों ने अदालत में दाखिल हलफनामे में बताया कि पांच साल और उससे ज्यादा उम्र के 1442 बच्चों को उनके परिवारों से मिलवा दिया गया है. हलफनामे में बताया गया है कि अभी 700 से ज्यादा बच्चे सरकार के संरक्षण में हैं. सरकार ने कहा है कि अदालत की समयसीमा पूरी की गई है. ऐसे मामले हैं जिनमें पारिवारिक रिश्तों की पुष्टि नहीं की जा सकी है , या उनके माता - पिता का कोई आपराधिक रिकार्ड है , या उन्हें कोई संक्रामक रोग है , इसलिए ये परिवार अयोग्य हैं. 

अमेरिका: ट्रंप से अपील, प्रवासी बच्चों को माता-पिता से फिर मिलाएं
डेमोक्रेट सांसदों के एक समूह ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन से अपील की है कि सीमा पर अलग किए गए हजारों प्रवासी बच्चों को उनके माता-पिता से फिर मिलाया जाए. समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, ऊपरी सदन में अपनी पार्टी के दूसरे सबसे वरिष्ठ सांसद डिक डरबिन ने कहा, "अमेरिकन एकेडमी ऑफ पेडियाट्रिक्स ने हमें बताया है कि इन बच्चों के साथ क्या हुआ..यह हमारी सरकार के हाथों किया गया सांस्थानिक बाल उत्पीड़न है . " डेमोक्रेट पार्टी के सदस्यों ने 24 घंटे के अंदर (26 जुलाई को) प्रवासी बच्चों को उनके माता-पिता से मिलाने का आग्रह किया है और इसी समय संघीय न्यायाधीश ने इसके लिए समय-सीमा तय की है.

अमेरिका: ट्रंप से अपील, प्रवासी बच्चों को माता-पिता से फिर मिलाएं

डरबिन ने कहा, "यह हमारे इतिहास का एक अपमानपूर्ण अध्याय है और हम इसे केवल संघीय न्यायाधीश के फैसले से खत्म कर रहे हैं.  प्रवासियों के लिए हमारी जीरो टॉलेरेंस नीति की वजह से कई जिंदगियों को नुकसान पहुंचा . "उन्होंने कहा, "यह कार्य 'अमेरिकी लोगों के मूल्यों को नहीं दर्शाता है. अमेरिका के लोग परवाह करने वाले होते हैं.

वे नहीं चाहते कि बच्चे इस तरह राजनीतिक शोषण का शिकार बनें . डरबिन और उनके साथी सांसदों ने हालांकि कहा कि उन्हें इस तथ्य पर खेद है कि ट्रंप प्रशासन ने बुधवार को तय दिए समय सीमा का 'पालन नहीं किया'. अवैध प्रवासन पर अमेरिका की जीरो टॉलेरेंस नीति की वजह से लगभग 2000 बच्चे अपने माता-पिता से दूर हैं. डरबिन ने सीमा पर पैदा किए गए हालात को 'जहरीली क्रूरता' और 'अक्षमता' का मिश्रण करार दिया.