close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'इंडिया कॉकस' ने भारत-अमेरिका के संबंधों को बेहतर बनाने में निभाई अहम भूमिका: श्रृंगला

अमेरिकी राजधानी में गुरुवार शाम आयोजित इस भोज में हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव्स और सीनेट के 60 से ज्यादा सदस्यों ने हिस्सा लिया. 

'इंडिया कॉकस' ने भारत-अमेरिका के संबंधों को बेहतर बनाने में निभाई अहम भूमिका: श्रृंगला

वाशिंगटन: अमेरिका में भारत के राजदूत हर्ष वी. श्रृंगला का कहना है कि अमेरिकी संसद के दोनों सदनों हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव्स और सीनेट के ‘संसदीय इंडिया कॉकस’ ने दुनिया के दो सबसे बड़े लोकतांत्रिक देशों के बीच संबंधों को बेहतर बनाने में महती भूमिका निभाई है.

‘कांग्रेसनल कॉकस ऑन इंडिया एंड इंडियन-अमेरिकन’ के सह-अध्यक्षों की ओर से श्रृंगला के सम्मान में आयोजित भोज में अमेरिका के वरिष्ठ सांसदों को संबोधित करते हुए राजदूत ने कहा कि भारत ने इसमें अपने हर कदम का ख्याल रखा है.

अमेरिकी राजधानी में गुरुवार शाम आयोजित इस भोज में हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव्स और सीनेट के 60 से ज्यादा सदस्यों ने हिस्सा लिया. इन सांसदों में सीनेट इंडिया कॉकस के सह-अध्यक्ष सीनेटर जॉन कोर्निन और मार्क वार्नर तथा भारतीय-अमेरिकी सांसद तुलसी गबार्ड शामिल थे. समारोह में राजा कृष्णमूर्ति और प्रमिला जयपाल ने भी हिस्सा लिया.

राजदूत श्रृंगला ने कहा कि इस कमरे में मौजूद कई लोगों को याद होगा कि असैन्य परमाणु समझौते में इंडिया कॉकस ने कितनी महती भूमिका निभाई है. उन्होंने कहा कि इंडिया कॉकस के कारण ही भारत को प्रमुख रक्षा साझेदार घोषित करने वाला कानून अमेरिकी संसद में पारित हुआ था

(इनपुट- भाषा)