बांग्लादेश की PM शेख हसीना को जन्मदिन पर भारत ने भेजा ये खास तोहफा

शेख मुजीबुर रहमान ने 1971 में पाकिस्तान के साथ युद्ध में मिली आजादी यानी बांग्लादेश को स्वतंत्रता मिलने के फौरन बाद मार्च 1972 में भारत का दौरा किया था. उन्हे बांग्लादेश के राष्ट्रपिता के रूप में भी जाना जाता है. 

बांग्लादेश की PM शेख हसीना को जन्मदिन पर भारत ने भेजा ये खास तोहफा
बांग्लादेश की पीएम को जन्म दिन पर तोहफा दिया गया....

नई दिल्ली : बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना (Bangladesh PM Shiekh Hasina) के जन्मदिन के अवसर पर, भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (  PM Narendra Modi) ने उन्हें जन्मदिन का विशेष शुभकामना संदेश लिखते हुए बधाई दी है.

बांग्लादेश में तैनात भारतीय उच्चायुक्त रीवा गांगुली दास ने शेख हसीना से मुलाकात के दौरान उन्हे उनके पिता बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान की वो दुर्लभ तस्वीर सौंपी है. जब वो 1972 में भारत आए थे. 

शेख मुजीबुर रहमान ने 1971 में पाकिस्तान के साथ युद्ध में मिली आजादी यानी बांग्लादेश को स्वतंत्रता मिलने के फौरन बाद मार्च 1972 में भारत का दौरा किया था. उन्हे बांग्लादेश के राष्ट्रपिता के रूप में भी जाना जाता है. अपनी तत्काली यात्रा में उन्होंने भारत के साथ दोस्ती, सहयोग और शांति से संबंधित भारत-बांग्ला संधि पर दस्तखत किए थे.

पीएम ने की तारीफ
पीएम मोदी ने बांग्लादेश की पीएम के नाम लिखे अपने पत्र में पीएम हसीना की नीतियों की तारीफ करते हुए कहा कि 'आपके दूरदर्शी नेतृत्व ने बांग्लादेश को अत्यधिक सामाजिक और आर्थिक परिवर्तन प्राप्त करने में मदद की है और समान रूप से हमारे द्विपक्षीय संबंधों में आपका योगदान बेहद प्रभावशाली रहा है.'

रिश्तों का सुनहरा दौर
दोनों देशों के बीच संबंध पिछले कुछ वर्षों में रिश्ते और मजबूत हुए हैं. इस दौरान सकारात्मक विकास की अवधारणा के साथ काम करने का फैसला हुआ. दोनों देशों के नेताओं के मुताबिक  वर्तमान समय दोनो देशों के बीच रिश्तों का एक सुनहरा अध्याय है यानी सामूहिक विकास की नीतियों पर आगे बढ़ते हुए एक स्वर्णिम युग की कल्पना की गई है.

भारत-बांग्लादेश संयुक्त सलाहकार आयोग की मुहिम के तहत 29 सितंबर को दोनों देशों के बीच वर्चुअल बैठक होगी. ई-बैठक के दौरान बांग्लादेश के विदेश मंत्री ए के अब्दुल अपने भारतीय समकक्ष यानी विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर के साथ अहम चर्चा करेंगे. 

LIVE TV