अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं की अपनी सफलता के लिए विवादों का समाधान करना होगा: गुटेरेस

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने आगाह किया है कि विवादों को रोकने एवं उनका समाधान करने में क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं की असमर्थता उनकी साख कमजोर कर रही है।

संयुक्त राष्ट्र: संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने आगाह किया है कि विवादों को रोकने एवं उनका समाधान करने में क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं की असमर्थता उनकी साख कमजोर कर रही है।

यूरोप के हालिया संकट का हवाला देते हुए गुटेरेस ने कहा, ‘यूरोप के भीतर कई ऐसे गंभीर विवाद हैं जो अनसुलझे हैं तथा नये खतरे और चुनौतियां भी पैदा हो रही हैं।’ उन्होंने कहा, ‘लोकलुभावनवाद, राष्ट्रवाद, विदेशियों से घृणा और हिंसक चरमपंथ इन विवादों के कारक एवं प्रभाव हैं।

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने कहा कि विवादों के पैदा होने और इनके जारी रहने के लिए कोई एक कारण जिम्मेदार नहीं है। उन्होंने कहा कि कई मामलों में शांति समझौतों का क्रियान्वयन नहीं हो रहा है। गुटेरेस ने कहा कि यूरोप में आर्थिक प्रगति एवं सतत विकास पर विपरीत प्रभाव डाल सकता है।