close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अमेरिका को ईरान का दो टूक जवाब, कहा - UN में ट्रंप से मुलाकात नहीं करेंगे हसन रूहानी

ईरान ने सोमवार को अमेरिका को दो टूक जवाब देते हुए कहा कि राष्ट्रपति हसन रूहानी की यूएन बैठक से इतर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मिलने की कोई योजना नहीं है.

अमेरिका को ईरान का दो टूक जवाब, कहा - UN में ट्रंप से मुलाकात नहीं करेंगे हसन रूहानी
ईरान के अधिकारियों ने वॉशिंगटन से बातचीत के प्रस्ताव को बार-बार खारिज किया है.

 नई दिल्ली: ईरान (Iran) ने सोमवार को अमेरिका को दो टूक जवाब देते हुए कहा कि राष्ट्रपति हसन रूहानी (Hassan Rouhani) की यूएन (United Nations) बैठक से इतर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) से मिलने की कोई योजना नहीं है. दरअसल, एक दिन पहले व्हाइट हाउस ने दोनों नेताओं के बीच बातचीत की संभावना जताई थी.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अब्बास मौसावी ने एक सरकारी टेलीविजन पर एक टिप्पणी में कहा कि हमने इस बैठक के लिए न तो योजना बनाई है और न तो मुझे लगता है कि न्यूयॉर्क में ऐसा कुछ होने जा रहा है. ईरान के अधिकारियों ने वॉशिंगटन से बातचीत के प्रस्ताव को बार-बार खारिज किया है. 

इधर, अमेरिका ने सैटेलाइट की तस्वीरों को जारी करते हुए और खुफिया जानकारी का हवाला देते हुए अपने उस दावे को दोहराया है जिसमें उसने कहा था कि सऊदी अरब की दो तेल रिफाइनरी पर हुए हमले के पीछे ईरान का हाथ था. बीबीसी के अनुसार, अमेरिकी अधिकारियों ने कहा यमन का हौती-नियंत्रित क्षेत्र सऊदी तेल सुविधाओं के दक्षिण-पश्चिम में स्थित है और हमले पश्चिम-उत्तर-पश्चिम दिशा से हुए थे. अन्य अमेरिकी अधिकारियों ने कहा कि उत्तरी खाड़ी, ईरान या इराक में लॉन्च स्थल हो सकते हैं. ईरान ने रविवार को अमेरिका के दावों को खारिज कर दिया था. 

LIVE टीवी:

ईरान के इस्लामिक रिवोल्यूशन गार्ड्स कॉर्प्स (IRGC) के एक शीर्ष कमांडर ने कहा कि क्षेत्र में स्थित अमेरिका के सैन्य शिविर ईरानी मिसाइलों की जद में हैं. आईआरजीसी के एयरोस्पेस डिवीजन के कमांडर आमिर अली हजीजदेह ने रविवार को कहा, 'क्षेत्र में अमेरिकी शिविरों की बात करें तो 2,000 किलोमीटर की सीमा में अमेरिकी जहाज, विमान और युद्धक विमान तक हमारी मिसाइलों की जद में हैं.'