Afghanistan: ISIS ने ली कुंदुज ब्लास्ट की जिम्मेदारी, हमले में मारे गए थे 100 से ज्यादा लोग
X

Afghanistan: ISIS ने ली कुंदुज ब्लास्ट की जिम्मेदारी, हमले में मारे गए थे 100 से ज्यादा लोग

अफगानिस्तान के कुंदुज शहर में जुमे की नमाज के दौरान आतंकी हमला हुआ, जिसकी जिम्मेदारी ISIS ने ली है. जानकारी के मुताबिक इस हमले में कम से कम 100 लोग मारे गए थे.

Afghanistan: ISIS ने ली कुंदुज ब्लास्ट की जिम्मेदारी, हमले में मारे गए थे 100 से ज्यादा लोग

नई दिल्ली. अफगानिस्तान (Afghanistan) के कुंदुज शहर में शुक्रवार की नमाज के दौरान आत्मघाती हमलावरों (terrorists) ने एक मस्जिद को निशाना बनाया था, जिसमें कम से कम 100 लोग मारे गए. इस हमले की जिम्मेदारी ISIS ने ली है. इस बात की जानकारी अमाक न्यूज एजेंसी (Amaq News Agency) के हवाले से मिली है. रिपोर्ट के अनुसार, आत्मघाती हमलावर का नाम मुहम्मद अल-उइगुरी था. ISIS ने यह भी दावा किया कि आत्मघाती बम विस्फोट में 300 लोगों की जान चली गई.

जानकारी के अनुसार अफगानिस्तान में तालिबानी हुकूमत बनने के बाद ये सबसे बड़ा आतंकी हमला है. कुंदुज प्रांत के तालिबान के उप प्रमुख ने बताया कि शुक्रवार को जुमे की नमाज के दौरान हुआ हमला एक आत्मघाती हमलावर द्वारा किया हुआ हो सकता है. उन्होंने कहा कि वे अपने शिया भाइयों को आश्वत करता हूं कि तालिबान उनकी सुरक्षा में कोई कसर नहीं छोड़ेगा.

ये भी पढ़ें: बीवी के जूतों से उलझकर गिरे शख्स की टूट गई हड्डियां, लाखों के नुकसान से भड़के पति ने ठोका केस

ISIS claimed responsibility for Kunduz blast

शिया मुसलमानों की मस्जिद पर हुआ था हमला

बता दें, न्यूज एजेंसी एपी के अनुसार, अफगानिस्तान के उत्तरी कुंदुज प्रांत में बीते शुक्रवार को एक मस्जिद पर हमला किया गया. बताया जाता है कि इस मस्जिद में अल्पसंख्यक शिया मुस्लिम समुदाय नमाज अदा करते हैं. इस वजह से स्थानीय इस्लामिक स्टेट (आईएस) समूह समेत सुन्नी मुस्लिम चरमपंथियों की ओर से शिया समुदाय को अक्सर निशाना बनाया जाता रहा है. एपी की रिपोर्ट के अनुसार, कुंदुज के प्रांतीय प्रवक्ता मतिउल्लाह रोहानी ने एक अमेरिकी मीडिया आउटलेट को बताया कि शुक्रवार को सैयद अबाद मस्जिद में हुए विस्फोट के लिए एक आत्मघाती हमलावर जिम्मेदार था.

पहले भी हो चुके हैं हमले

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में 3 अक्टूबर को भी एक मस्जिद के बाहर घातक विस्फोट हुआ था. इस हमले में कई लोगों की जान चली गई थी. तालिबानी प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने ट्विट्टर पर इस धमाके की पुष्टि की थी.  

ये भी पढ़ें: सबसे खतरनाक पक्षी को देखा है? 18 हजार साल पहले पालता था इंसान, अब ये हो रहे जानलेवा

काबुल एयरपोर्ट पर भी हुआ था धमाका

गौरतलब है कि अफगानिस्तान से अमेरिकी सेना की वापसी के दौरान राजधानी काबुल में आतंकी हमला हुआ था. इस हमले में 13 अमेरिकी सैनिक और करीब 169 अफगानी नागरिक मारे गए थे. इसी महीने बुधवार को भी खोस्त शहर के मजहरुल आलम मदरसे में एक विस्फोट में 7 लोगों की मौत हो गई और 15 अन्य घायल हो गए.

LIVE TV

Trending news