अपनी 80% Population को Vaccine लगाने वाले Israel में अब Mask नहीं अनिवार्य, Positive Cases में आई कमी

वैक्सीनेशन ने इजरायल में किस तरह से बढ़ते केसों पर लगाम लगाई है, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि इस साल जनवरी में प्रतिदिन 10,000 नए मामले सामने आ रहे थे, जो अब घटकर 200 रह गए हैं. इसे देखते हुए सरकार ने स्कूल, बार, रेस्तरां और अन्य इनडोर एक्टिविटी की अनुमति दे दी है.  

अपनी 80% Population को Vaccine लगाने वाले Israel में अब Mask नहीं अनिवार्य, Positive Cases में आई कमी
फोटो: AFP

तेल अवीव: एक तरफ जहां दुनिया के अधिकांश देश कोरोना (Coronavirus) की मार से बेहाल हैं. संक्रमण को रोकने के लिए कर्फ्यू, लॉकडाउन (Lockdown) जैसे उपाय फिर से अपना रहे हैं. वहीं, इजरायल (Israel) ने लोगों के लिए मास्क (Mask) की अनिवार्यता खत्म कर दी है. यानी अब यहां के लोगों के लिए मास्क लगाना जरूरी नहीं है. लगभग एक साल में पहली बार ऐसा हुआ है जब इजरायल की जनता बगैर मास्क घर से बाहर निकली है. दरअसल, इजरायल ने अपनी 80 फीसदी आबादी को कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) लगा दी है. इस सफलता को हासिल करने के बाद ही उसने मास्क की अनिवार्यता खत्म की है.  

Corona से जंग में बड़ी जीत

हमारी सहयोगी वेबसाइट WION में छपी खबर के अनुसार, इजरायल के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने मास्‍क से आजादी का ऐलान करते हुए कहा कि देश में कोरोना संक्रमण की दर वैक्‍सीन (Vaccine) लगाए जाने के बाद बहुत कम हो गई है. इसलिए अब प्रतिबंधों में ढील देना संभव हुआ है. सार्वजनिक स्थलों पर अब मास्क लगाने की जरूरत नहीं है. इसे कोरोना वायरस से जंग में इजरायल की बड़ी सफलता के रूप में देखा जा रहा है. 

ये भी पढ़ें -Corona संक्रमण से मचा हड़कंप, Hong Kong ने भारत से आने वाली फ्लाइटों पर 3 मई तक लगाई रोक

Decision से लोगों में खुशी

सरकार के इस फैसले से लोग काफी खुश हैं. जाफा स्ट्रीट स्थित यरुशलम शॉपिंग के पास बस का इंतजार कर रहीं 26 वर्षीय इलियाना गामुल्का (Eliana Gamulka) ने कहा, ‘विश्वास ही नहीं हो रहा है कि अब मास्क लगाने की जरूरत नहीं है. अब हमें मास्क के पीछे अपना चेहरा नहीं छिपाना होगा. गामुल्का के लिए ये फैसला इसलिए भी बेहद खुशी भरा है, क्योंकि दो हफ्तों में उनकी शादी होनी वाली है. उन्होंने कहा, ‘बिना मास्क जश्न मानना अच्छा रहेगा, हमारे फोटो भी अच्छे आएंगे. मैं वास्तव में अब राहत महसूस कर रही हूं’.  

Vaccination से ऐसे हुआ फायदा

वैक्सीनेशन ने किस तरह से बढ़ते केसों पर लगाम लगाई है, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि इस साल जनवरी में प्रतिदिन 10,000 नए मामले सामने आ रहे थे, जो अब घटकर 200 रह गए हैं. संक्रमण की रफ्तार पर एक तरह से ब्रेक लगाने के बाद सरकार ने स्कूल, बार, रेस्तरां और अन्य इनडोर एक्टिविटी की अनुमति दे दी है. हालांकि, इनडोर पब्लिक स्पेस जैसे कि ऑफिस आदि में मास्क पहनना अभी भी अनिवार्य है. 

Mask हटाने से घबराहट

हालांकि, कुछ लोग ऐसे भी हैं जो मास्क हटाने से घबरा रहे हैं. निजी कंपनी में काम करने वालीं एस्टर मलका (Ester Malka) ने कहा, ‘मैं तो फिलहाल मास्क पहनना बंद नहीं करने वाली. सच कहूं तो मुझे इसकी आदत लग गई है, मास्क मेरी जिंदगी का हिस्सा बन गया है. अभी ये देखना होगा कि जब सभी मास्क हटा देंगे तो क्या होगा. अगर एक-दो महीने तक स्थिति ठीक रहती है, तो ही मैं मास्क हटाने के बारे में सोचूंगी’.  

 

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.