close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

इजरायल चुनाव में कांटे की टक्कर, नेतन्याहू को लग सकता है झटका: एक्जिट पोल

इस साल अप्रैल में हुए चुनाव में सरकार बनाने में नाकाम रहने के बाद नेतन्याहू ने दूसरी बार आम चुनाव कराए हैं.

इजरायल चुनाव में कांटे की टक्कर, नेतन्याहू को लग सकता है झटका: एक्जिट पोल
इजरायल बेटीनू पार्टी के नेता एविगडोर वीबरमैन किंगमेकर की भूमिका निभा सकते हैं. (फोटो साभार: Twitter/@netanyahu)

जेरूसलम: इजरायल में पांच महीने में दूसरी बार हुए आम चुनाव (Israel election result) के एक्जिट पोल (Exit polls) के नतीजे प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू (Benjamin Netanyahu) की लिकुड पार्टी और पूर्व सैन्य प्रमुख बेनी गैंट्ज की 'ब्लू एंड व्हाइट' पार्टी में कांटे की टक्कर दिखा रहे हैं. फिलहाल यह कहना मुश्किल है कि जीत किसकी होगी.

बीबीसी ने मंगलवार को एग्जिट पोल के आंकड़ों के हवाले से बताया कि गैंट्ज के ब्लू एंड व्हाइट गठबंधन को 32 से 34 के बीच सीटें मिलने की संभावना है, जबकि लिकुड पार्टी को 31 से 33 सीटें मिल सकती हैं.

इजरायल बेटीनू पार्टी के नेता एविगडोर वीबरमैन किंगमेकर की भूमिका निभा सकते हैं. इस साल अप्रैल में हुए चुनाव में सरकार बनाने में नाकाम रहने के बाद नेतन्याहू ने दूसरी बार आम चुनाव कराए हैं. बुधवार सुबह प्रांरभिक नतीजे आते ही नए गठबंधन के गठन पर बातचीत शुरू होने की संभावना है.

इजरायली टीवी चैनल कैन ने अपने एग्जिट पोल में 120 सीटों वाले नेसेट (इजरायली संसद) में लिकुड और ब्लू एंड व्हाइट दोनों को 32-32 सीटें मिलने की बात कही है.

एग्जिट पोल नतीजों में 12 सीटों के साथ इजरायल की अरब बहुल वाली पार्टी जॉइंट लिस्ट तीसरे स्थान पर और 10 सीटों के साथ लिबरमैन की पार्टी इजरायल बेटीनू चौथे स्थान पर है. यमीना पार्टी को सात, शास पार्टी को नौ और यूनाइटेड तोराह जूडीइज्म को आठ, डोमोक्रेटिक यूनियन और लेबर-गेशेर गठबंधन को पांच-पांच सीटें मिलने की संभावना है.

चैनल 12 न्यूज ने ब्लू एंड व्हाइट को 34 सीटों पर और लिकुड को 33 के साथ आगे रखा है, जबकि चैनल 13 न्यूज ने अपने अनुमान में ब्लू एंड व्हाइट को 33 सीटें और लिकुड को 31 सीटें मिलने की बात कही है.

एग्जिट पोल जारी होते ही तेल अवीव में लिकुड के चुनाव मुख्यालय में खास प्रतिक्रिया देखने को नहीं मिली. पार्टी समर्थकों के लिए सैकड़ों कुर्सियां खाली पड़ी रहीं, क्योंकि कार्यकर्ताओं को हॉल के बाहर रखा गया था और नेताओं ने सही आंकड़े जाहिर नहीं किए.

लिकुड के एक प्रवक्ता ने कहा कि इजरायल में एग्जिट पोल पहले भी गलत साबित हो चुके हैं.

एली हैजान ने कहा, "इन नंबरों के आधार पर गठबंधन बनाने का कोई मतलब नहीं है, क्योंकि वे बदल जाएंगे."

वहीं, ब्लू एंड व्हाइट प्रवक्ता मेलोडी सुचैरेसीज ने इजरायल को नया नेतृत्व मिलने की उम्मीद जताई है.