Zee Rozgar Samachar

यहूदी राष्ट्र की मान्यता देने वाले विवादित कानून पर सुनवाई करेगा इजराइल का सुप्रीम कोर्ट

विशेषज्ञों का कहना है कि यह कानून इजराइल को यहूदी राष्ट्र के तौर पर स्थापित कर देगा. अरब अधिकार समूहों और अन्य नागरिक समाज संगठनों द्वारा दायर 15 याचिकाओं में देश के उच्चतम न्यायालय से कानून को निरस्त करने का अनुरोध किया गया है.

यहूदी राष्ट्र की मान्यता देने वाले विवादित कानून पर सुनवाई करेगा इजराइल का सुप्रीम कोर्ट

यरुशलम: इजराइल का उच्चतम न्यायालय देश को यहूदी राष्ट्र के तौर पर मान्यता देने वाले विवादित कानून के खिलाफ दायर याचिकाओं पर मंगलवार को सुनवाई करेगा. विपक्ष का आरोप है कि यह कानून अल्पसंख्यकों से भेदभाव करता है.आलोचकों का कहना है कि इस कानून से अरब अल्पसंख्यक समुदाय का दर्जा और कम होगा.

कानून के खिलाफ दायर हुई थीं 15 याचिकाएं
 अरब अल्संख्यक देश की आबादी का करीब 20 प्रतिशत हैं. विशेषज्ञों का कहना है कि यह कानून इजराइल को यहूदी राष्ट्र के तौर पर स्थापित कर देगा. अरब अधिकार समूहों और अन्य नागरिक समाज संगठनों द्वारा दायर 15 याचिकाओं में देश के उच्चतम न्यायालय से कानून को निरस्त करने का अनुरोध किया गया है.

ये भी पढ़ें-Brain Eating Amoeba: US में फैल रहे दिमाग को खा जाने वाले अमीबा, वैज्ञानिकों ने जारी की चेतावनी

इस कानून को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर 11 न्यायाधीशों का पैनल सुनवाई करेगा. याचिकाकर्ताओं में से एक अरब अल्पसंख्यक अधिकार समूह के संस्थापक हसन जाबरीन ने कहा, ‘‘इजराइल के कानूनी इतिहास में यह पहली बार है जब उच्चतम न्यायालय इजराइल में फलस्तीनी अल्पसंख्यकों के वैधानिक दर्जे पर सुनवाई करेगा.’’ कानून को जुलाई 2018 में इजराइल की संसद नेसेट से मंजूरी मिली थी. यह कानून इजराइल को ‘‘यहूदी राष्ट्र’’ के तौर पर मान्यता देता है. कानून में अरबी भाषा का दर्जा आधिकारिक राजकीय है.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.