जापान: 60 वर्षों का सबसे विनाशकारी तूफान, 70 लाख से ज्यादा लोगों से घर छोड़ने को कहा गया

225 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार वाली तेज हवाओं के साथ तूफान जापान के मुख्य द्वीप के पूर्वी तट की ओर बढ़ रहा है. 2,70,000 से ज्यादा घरों की बिजली ठप हो गई.

जापान: 60 वर्षों का सबसे विनाशकारी तूफान, 70 लाख से ज्यादा लोगों से घर छोड़ने को कहा गया
(फोटो साभार - रॉयटर्स)

टोक्यो: जापान (japan) में प्रलयकारी तूफान हैजिबिस (Hagibis) के कहर के कारण अधिकतर भागों में मूसलाधार बारिश  (rain) और चक्रवाती हवाएं कहर बरपा रही हैं. माना जा रहा है कि देश में पिछले 60 सालों में यह सबसे विनाशकारी तूफान है. बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, तूफान हैजिबिस यहां टोक्यो के दक्षिण-पश्चिम में इजु प्रायद्वीप पर शनिवार शाम सात बजे से कुछ देर पहले आया.

225 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार वाली तेज हवाओं के साथ तूफान जापान के मुख्य द्वीप के पूर्वी तट की ओर बढ़ रहा है. एनएचके की रिपोर्ट के अनुसार, 2,70,000 से ज्यादा घरों की बिजली ठप हो गई.

स्थानीय रिपोर्ट्स के अनुसार, तूफान के कारण दो लोगों की मौत हो गई है, जिनमें से एक व्यक्ति की मौत टोक्यो  (Tokyo) के पूर्व में शीबा प्रांत में तेज हवाओं में उसका वाहन पलटने से हुई, वहीं दूसरा व्यक्ति अपनी कार समेत बह गया. एनएचके ने कहा कि स्थानीय समय के अनुसार, रविवार तड़के तक मिली जानकारी के अनुसार 90 लोग घायल हो चुके हैं.

 Typhoon Hagibis in Nagano
फोटो साभार - रॉयटर्स

लोगों से घर छोड़ने को कहा गया
भयानक बाढ़ और भूस्खलन की चेतावनी के बीच प्रशासन ने 70 लाख से ज्यादा लोगों से घर छोड़ने का आग्रह किया है, लेकिन माना जा रहा है कि आश्रय गृहों में सिर्फ 50,000 लोग रुके हुए हैं.

कस्बों, शहरों में मूसलाधार बारिश
जेएमए के मौसम विभाग के अधिकारी यासूशी काजीवारा ने मीडिया को बताया, 'शहरों, कस्बों और गांवों में अभूतपूर्व मूसलाधार बारिश हो रही है, जिसके कारण चेतावनी जारी की गई है.'

flooded residential area due to Typhoon Hagibis, in Kawasaki, Japan
फोटो साभार - रॉयटर्स

उन्होंने कहा, 'इसकी बहुत तीव्र संभावना है कि भूस्खलन और बाढ़ जैसी आपदाएं पहले ही आ चुकी हैं. अब ऐसे कदम उठाना महत्वपूर्ण है जिनसे जान बचाई जा सके.' जापान मौसम विज्ञान एजेंसी (जेएमए) ने चेतावनी दी है कि टोक्यो में शनिवार दोपहर से रविवार के बीच करीब आधा मीटर बारिश हो सकती है.