चीन की पहली समलैंगिक शादी मामले में फैसला सुनाया गया

एक न्यायाधीश ने चीन के पहले समलैंगिक विवाह के मामले में आज समलैंगिक दंपति के विरूद्ध फैसला सुनाया। समलैंगिक शादी के बड़ी संख्या में समर्थक अदालत पहुंचे थे। इस फैसले को चीन के उभरते एलजीबीटी अधिकार आंदोलन के संदर्भ में ऐतिहासिक पल के रूप में देखा जा रहा है। मध्यवर्ती शहर चंगसा की एक अदालत ने समलैंगिक दंपति को शादी प्रमाणपत्र इनकार करने पर स्थानीय नागरिक मामले ब्यूरो के विरूद्ध दर्ज मुकदमे को खारिज कर दिया। दंपति के वकील शी फुलोंग ने कहा, ‘यह लोगों के रिपब्लिक ऑफ चीन के कानूनों की भावना के विरूद्ध है।’ वादी सन वेनलिन ने कहा कि जबतक सारे कानूनी विकल्प खत्म नहीं हो जाते तबतक वह वह अपील करेंगे।

चंगसा: एक न्यायाधीश ने चीन के पहले समलैंगिक विवाह के मामले में आज समलैंगिक दंपति के विरूद्ध फैसला सुनाया। समलैंगिक शादी के बड़ी संख्या में समर्थक अदालत पहुंचे थे। इस फैसले को चीन के उभरते एलजीबीटी अधिकार आंदोलन के संदर्भ में ऐतिहासिक पल के रूप में देखा जा रहा है। मध्यवर्ती शहर चंगसा की एक अदालत ने समलैंगिक दंपति को शादी प्रमाणपत्र इनकार करने पर स्थानीय नागरिक मामले ब्यूरो के विरूद्ध दर्ज मुकदमे को खारिज कर दिया। दंपति के वकील शी फुलोंग ने कहा, ‘यह लोगों के रिपब्लिक ऑफ चीन के कानूनों की भावना के विरूद्ध है।’ वादी सन वेनलिन ने कहा कि जबतक सारे कानूनी विकल्प खत्म नहीं हो जाते तबतक वह वह अपील करेंगे।

यह मुदकमा चीन में समलैंगिक, बाईसेक्सुअल और ट्रांसजेंडर मुद्दों पर बढ़ पर जागरूकता के बीच आया है जहां समाज और सरकार ने लिंग और यौन रूझान की गैर पारंपारिक अभिव्यक्ति पर भृकुटि तान ली है। चीन समलैंगिक शादी को कानूनी मान्यता नहीं देता है और केंद्र सरकार ने कहा है कि उन्हें कानून में जल्द बदलाव नजर नहीं आता।

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.