एक देश जहां अब न बनेगी और न आयात की जाएंगी प्लास्टिक की थैलियां

दुनिया के कई देशों में प्लास्टिक की थैलियों से निजात पाने की कोशिशें चल रही हैं. जिसमें से एक देश भारत भी है. 

एक देश जहां अब न बनेगी और न आयात की जाएंगी प्लास्टिक की थैलियां
केन्या में लगा प्लास्टिक की थैलियों पर बैन (प्रतीकात्मक फोटो- Zee)

नैरोबी: दुनिया के कई देशों में प्लास्टिक की थैलियों से निजात पाने की कोशिशें चल रही हैं. जिसमें से एक देश भारत भी है, जहां कई राज्यों में प्लास्टिक थैलियों के इस्तेमाल पर बैन लगा हुआ है, हालांकि, इसका असर कम ही देखने को मिलता है. ऐसे में पूर्वी अफ्रीका में स्थित केन्या ने देश में प्लास्टिक बैगों के निर्माण और आयात पर प्रतिबंध लगा दिया है. इतना ही नहीं यदि इसका कोई उल्लंघन करते हुए मिलता है तो उस पर 38,000 अमेरिकी डॉलर का भारी भरकम जुर्माना लगाया जा सकता है.

ये भी पढ़ें- VIDEO : जब श्रीलंकाई फैन फेंक रहे थे बोतलें, तब माही फरमा रहे थे मैदान पर आराम

केन्या की राजधानी नैरोबी की सड़कों पर खरीददारी में इस्तेमाल होने वाली पतली प्लास्टिक की थैलियों का ढेर लगा हुआ है. कैमरून, गिनिया-बिसाउ, माली, तंजानिया, युगांडा, इथियोपिया, मॉरितानिया और मलावी उन देशों की सूची में शामिल हैं जिन्होंने प्लास्टिक पर प्रतिबंध लगा दिया है या प्रतिबंधों को लेकर ऐसी घोषणाएं की हैं.

ये भी पढ़ें- डेरा के भीतर हथियारों की ट्रेनिंग को लेकर 2010 में सेना ने जताई थी आशंका

संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम के मुताबिक, अकेले सुपरमार्किट से केन्या में हर साल करीब 10 करोड़ प्लास्टिक की थैलियां दी जाती हैं. केन्या सरकार का कहना है कि प्लास्टिक की थैलियां न केवल पर्यावरण को नुकसान पहुंचाती हैं बल्कि इनसे नालियां बाधित होती हैं. साथ ही पशु भी इन्हें खा कर बीमार हो जाते हैं. ऐसे में थैलियों पर बैन को लेकर ये फैसला लिया गया है.

ये भी पढ़ें- अरबों के आसामी राम रहीम के खिलाफ इन 5 वकीलों ने फ्री में लड़ा केस

वहीं सरकार के इस फैसले को लेकर प्लास्टिक थैलियों के निर्माताओं ने विरोध जताया है. उनका कहना है कि प्लास्टिक की थैलियों पर प्रतिबंध का असर रोजगार पर पड़ेगा, जिससे बेरोजगार लोगों का परिवार चलाना भी मुश्किल हो जाएगा.